DA Image
27 जनवरी, 2021|4:51|IST

अगली स्टोरी

स्पेशल ट्रेनों में रेस्ट्रिक्शन चार्ज को ले जमालपुर में आक्रोश

default image

कोविड 19 में अब यात्रियों को सफर का आनंद लेने के लिये जेबें और ढीली करनी पड़ेगी। पहले से ही स्पेशल ट्रेनों का किराया ज्यादा वसूला जा रहा है।

अब स्पेशल ट्रेन के नाम पर किलोमीटर रजिस्ट्रक्शन चार्ज भी वसूलने की तैयारी की जा रही है। फिलहाल किलोमीटर रेस्ट्रिक्शन चार्ज लंबी दूरी की ट्रेनों में ही लागू की जाएगी। पूर्व मध्य रेलवे ने इसे ने स्पेशल ट्रेनों के नाम पर किलोमीटर रेस्ट्रिक्शन चार्ज लेना शुरू कर दिया है। यानि दिल्ली से हावड़ा की ट्रेन है, तो आप अगर किऊल स्टेशन उतरना चाहे तो उतर सकते हैं। लेकिन आपको करीब 500 किलोमीटर की दूरी का किराया देना होगा। वैसे पूर्व रेलवे मालदा मंडल प्रशासन के सूत्रों ने बताया कि कोरोना काल में सिर्फ ब्रह्मपुत्र मेल स्पेशल ट्रेन में किलोमीटर रेस्ट्रिक्शन चार्ज लेने का प्रावधान बनाया गया था। वो भी पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन की दूरी तक, लेकिन इसे फिलहाल किलोमीटर रेस्ट्रिक्शन चार्ज हटा दिया गया है। लेकिन रेलवे बोर्ड, नई दिल्ली की कोई ऐसी आदेश आया तो निश्चित ही किलोमीटर रेस्ट्रिक्शन चार्ज वसूला जाएगा। जमालपुर के यात्रियों में किलोमीटर रेस्ट्रिक्शन चार्ज को लेकर भारी आक्रोश जमालपुर के आरक्षण टिकट काउंटर पर टिकट कटा रहे श्याम कुमार, विक्रम कुमार, पूजा कुमारी, सत्यम, बिरजू, पंकज कुमार, आशीष कुमार सहित अन्य ने कहा कि फिलहाल किलोमीटर रेस्ट्रिक्शन चार्ज नहीं ली जा रही है। अगर स्पेशल ट्रेन के नाम पर रेस्ट्रिक्शन चार्ज लिया जाता है, तो यात्रियों के लिए सही नहीं होगा। कोरोना में एक ओर पैसेंजर ट्रेनों और इंटरसिटी ट्रेनों की भारी किल्लत है। उसपर लंबी दूरी की ट्रेनों में बिना आरक्षण टिकट लिए सवार होने पर पाबंदी है। टिकट कंफर्म होने के बाद भी जहां का टिकट लिए है, वहां का भाड़ा की जगह 500 किलोमीटर की किराया वसूला जाएगा। यात्रियों के जेबे पर अतिरिक्त बोझ बढ़ जाएगा। इसका विरोध हर राज्य में होना तय है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Outrage in Jamalpur taking restriction charge on special trains