Church Glorified by Carol Song and Prayer Meeting - कैरल गीत और प्रार्थना सभा से गुंजायमान हुए चर्च DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैरल गीत और प्रार्थना सभा से गुंजायमान हुए चर्च

कैरल गीत और प्रार्थना सभा से गुंजायमान हुए चर्च

आज एक बालक जन्मा है, जो संसार का राजा है..., अब आओ विश्वासियों जय जयकार करते आओ... गीत से मुंगेर व जमालपुर के चर्च गुंजायमान रहा। मौका था क्रिसमस की पूर्व संध्या पर प्रभु यीशु के आगमन की खुशी मनाने का।

सोमवार की शाम स्थानीय सोझी घाट स्थित बैपटिस्ट मिशन चर्च, चैम्बरलीन मेमोरियल चर्च सहित किला परिसर एवं नोट्रेडेम एकेडमी स्थित चर्च में ईसाई धर्मावलंबियों ने कैंडिल लाइट प्रार्थना सभा आयोजित की। प्रार्थना सभा में उपस्थित लोगों ने हाथों में मोमबत्ती लेकर प्रभु यीशु की आराधना की। इस मौके पर पादरी वसंत पुष्पेन शॉ ने अपने संदेश में कहा कि मानव के कल्याणार्थ प्रभु यीशु ने इस धरती पर जन्म लिया। स्वयं परमेश्वर मनुष्य का रूप लेकर आए एवं मानव जाति को पाप, दु:ख, मुसीबत, बीमारी एवं विभिन्न समस्याओं से मुक्त होने की प्रेरणा दी।

प्रार्थना सभा में अजीत मैसी, आई.आर.पॉल, मंजू पॉल, आई मैसी, ज्योति मैसी, अजीत मैसी, तृप्ति रानी शॉ, रोजी, सुनील दास, धर्मेन्द्र, शैली पौल अमन, , पूनम, ओसिन सहित दर्जनों लोग उपस्थित थे। मौके पर चैम्बरलीन मेमोरियल यूनियन बैपटिस्ट चर्च में पादरी बसंत पुष्पेन शॉ ने प्रार्थना सभा करायी। प्रार्थना के पश्चात ईसाइयों सहित अन्य ने एक-दूसरे को बधाई देकर आपस में केक बांटे। इस मौके पर पादरी वसंत पुष्पेन शॉ ने कहा कि प्रभु यीशु मसीह का जन्म मानव समाज को अहंकार, भेदभाव, लड़ाई झगड़े एवं दूसरों को कष्ट देने वाले स्वभाव से मुक्ति दिलाने के लिए हुआ। ये मानव जाति के कल्याणार्थ, प्रेम, दया, क्षमा एवं करुणा का संदेश लेकर धरती पर अवतरित हुए थे। प्रभु यीशु ने हम सभी को नफरत और घृणा पर प्रेम, शांति एवं सद्भाव से विजय पाने का संदेश दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Church Glorified by Carol Song and Prayer Meeting