Live Hindustan आपको पुश नोटिफिकेशन भेजना शुरू करना चाहता है। कृपया, Allow करें।

लंबे इंतजार के बाद मुंगेर विवि में विद्यार्थियों को नसीब हुआ शुद्ध एवं ठंडा पेयजल की सुविधा

द कर बुझाते थे प्यास अधिकारी भी अपने घर से लाए पानी पर रहते थे निर्भर कहते हैं अधिकारी मुंगेर। एक संवाददाता मुंगेर विश्वविद्यालय में आवश्यक...

offline
लंबे इंतजार के बाद मुंगेर विवि में विद्यार्थियों को नसीब हुआ शुद्ध एवं ठंडा पेयजल की सुविधा
default image
Newswrap हिन्दुस्तान टीम , मुंगेर
Tue, 18 Jun 2024 1:01 AM
अगला लेख

मुंगेर। एक संवाददाता
मुंगेर विश्वविद्यालय में आवश्यक सुविधाओं को उपलब्ध कराने को लेकर यहां की जिम्मेदार अधिकारी में कितनी तत्परता पड़ता है यह शुद्ध ठंडा पेयजल उपलब्धता के मामले में समझा जा सकता है। लंबे इंतजार के बाद यहां विद्यार्थियों को शुद्ध ठंडा पेय जल की सुविधा नसीब हुआ। कुलसचिव कर्नल विजय कुमार ठाकुर के प्रयास से कुछ दिनों पूर्व विश्वविद्यालय में कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी के तहत 1000 लीटर की क्षमता वाला आरओ लगाया गया है। इसके पूर्व पिछले कई सालों से विश्वविद्यालय में कार्य करने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों, यहां आने वाले विद्यार्थियों एवं आम लोगों को शुद्ध ठंडा पेयजल नसीब नहीं हो रहा था। कई बार लोग यहां आकर या तो प्यासे लौट जाते थे अथवा टंकी का गर्म पानी पीकर अपना काम चलाते थे। वहीं, कर्मचारी एवं अधिकारी अपने घरों से लाए पानी पर निर्भर थे, तो यहां आने वाले विद्यार्थी एवं अन्य लोग बोतल बंद पानी पर निर्भर थे। अधिकांश लोग पानी की बोतल खरीद कर अपनी प्यास बुझाते थे।

ऐसे में आश्चर्य की बात है कि, विश्वविद्यालय के अधिकारियों का ध्यान पेयजल जैसी मूलभूत एवं आवश्यक सुविधाओं को उपलब्ध कराने की तरफ लंबे अरसे तक ध्यान नहीं गया। इस मामले में यह विश्वविद्यालय के अधिकारियों की लापरवाही अथवा उदासीनता ही कही जाएगी। विश्वविद्यालय में शुद्ध ठंडा पेयजल उपलब्ध कराने के प्रति विश्वविद्यालय के अधिकारियों की यह लापरवाही उनके कार्य प्रणाली को भी दर्शाता है। क्योंकि, लैपटॉप, मोबाइल एवं वाहन जैसी महंगी और अपनी सुविधा वाली को खरीदने में अधिकारियों ने जरा सी भी देरी नहीं की। लेकिन, शुद्ध ठंडा पेयजल की सुविधा पाने में यहां आने वाले विद्यार्थियों को लंबा इंतजार करना पड़ा।

कहते हैं विद्यार्थी:

विभिन्न कार्यों से मुंगेर आने वाले विद्यार्थियों एवं आम लोगों में से किसलय कुमार, श्रवण कुमार, मनीष कुमार, प्रिंस कुमार, सन्नी झा एवं प्रवीण कुमार सहित कई लोगों ने कहा कि, विश्वविद्यालय में लंबे समय तक शुद्ध एवं ठंडा पेयजल की सुविधा उपलब्ध नहीं होना अपने आप में शर्मनाक बात थी। अब नया आरओ के लगने से यहां आने वाले लोगों को पीने का पानी खरीद कर नहीं पीना पड़ता है। अब यहां आने वाले लोगों को प्यास नहीं सता रही है।

कहते हैं अधिकारी:

किसी भी जगह पर शुद्ध पेयजल की सुविधा उपलब्ध होना मूलभूत सुविधा अनिवार्य आवश्यकता के तहत आता है। हर साल प्रचंड गर्मी की भयावहता को देखते हुए एवं यहां आने वाले लोगों को जल की मूलभूत सुविधा प्रदान करने की दृष्टिकोण से आरओ का प्लांट लगाया गया है। अब यहां आने वाले लोगों को पेयजल की अनुपलब्धता का सामना नहीं करना पड़ेगा।

-- कर्नल विजय कुमार ठाकुर, कुलसचिव,

मुंगेर विश्वविद्यालय मुंगेर

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हमें फॉलो करें
ऐप पर पढ़ें

बिहार की अगली ख़बर पढ़ें
Munger News Munger Latest News Bihar News Bihar Latest News
होमफोटोशॉर्ट वीडियोफटाफट खबरेंएजुकेशनट्रेंडिंग ख़बरें