Additional personnel from Bariyarpur to Abhaipur - बरियारपुर से अभयपुर तक अतिरिक्त जवान DA Image
20 नबम्बर, 2019|10:45|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बरियारपुर से अभयपुर तक अतिरिक्त जवान

default image

त्योहार को लेकर ट्रेनों में भीड़ बढ़ गई है। इसके मद्देनजर रेल पुलिस ने सुरक्षा के लिए कई स्तर पर योजना बनायी है। पुलिस का मानना है कि इस भीड़ में नशाखुरानी गिरोह ज्यादा सक्रिय हो सकते हैं। खासकर उत्तर प्रदेश की ओर से आने वाली ट्रेनों में इसका खतरा ज्यादा है।

रेल एसपी आमिर जावेद ने सोमवार को बताया कि नशाखुरानी गिरोह पर नजर रखने के लिए चिह्नित किए गए गिरोह के सदस्यों की फोटो भी जारी की गई है। कोई यात्री उसके आधार पर सूचना दे सकता है। पुलिस स्वयं वैसे बदमाशों पर नजर रख रही है। ज्यादातर घटनाएं किऊल भागलपुर रेलखंड के बीच बरियारपुर, रतनपुर, जमालपुर, दशरथपुर, धरहरा, कजरा और अभयपुर में हो रही है। रेल एसपी आमिर जावेद ने ऐसी घटनाओं पर अंकुश लगाने तथा दीपावली व छठ पर्व पर अत्याधिक भीड़ को देखते हुए इन संवदेनशील स्थानों पर अतिरिक्त जवानों की तैनाती की कवायद तेज कर दी है। एसआरपी आमिर जावेद ने कहा कि शनिवार को ट्रेन में छिनतई का प्रयास के दौरान गोलीबारी चिंतनीय विषय है। इस घटना से रेल जिला सकते में आ गयी है। तथा जवानों ऐसे स्थानों पर तैनाती की जाएगी, ताकि आने जाने वाले वाली ट्रेनों में विशेष सर्च अभियान चलाकर धरपकड़ की जा सके।

77 आरपीएफ इन क्षेत्रों में तैनात : पूर्व रेलवे कोलकाता के रेलवे सुरक्षा के डायरेक्टर जनरल के आदेश पर अभयपुर स्टेशन और सुल्तानगंज स्टेशनों को आरपीएफ पोस्ट खुले कई माह बीत गये हैं। यहां दो दो आरपीएफ इंस्पेक्टर पदों का सृजन भी किया है। तथा 77 अतिरिक्त जवानों की तैनाती के बावजूद चोर, उचक्कों और बदमाशों का मनोबल बढ़ा हुआ है। इन क्षेत्रों में अवैध हॉकरों का ट्रेनों पर पूरा कब्जा बना रहता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Additional personnel from Bariyarpur to Abhaipur