Saturday, January 29, 2022
हमें फॉलो करें :

गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार मोतिहारीजान जोखिम में डाल पुल से हो रहा आवागमन कर रहे ग्रामीण

जान जोखिम में डाल पुल से हो रहा आवागमन कर रहे ग्रामीण

हिन्दुस्तान टीम,मोतिहारीNewswrap
Fri, 03 Dec 2021 03:32 AM
जान जोखिम में डाल पुल से हो रहा आवागमन कर रहे ग्रामीण

सुगौली | निज संवाददाता

प्रखण्ड क्षेत्र में लगातार आयी बाढ़ से कमोबेश आठ पंचायतों में दर्जनों पुल पुलिया ध्वस्त हो गए तो सड़कों का हाल भी बेहाल है। जिसमे कई नए छोटे बड़े पुल भी घटिया निर्माण होने से बाढ़ में भरभराकर बह गए। वहीं करीब सवा करोड़ रुपये से डेढ़ वर्ष पूर्व महुआनी के समीप बना पुल नाव का शक्ल अख्तियार कर चुका है। जिससे कभी भी कोई अप्रिय हादसे को यह पुल आमंत्रित कर रहा है। बाढ़ के दौरान इस रास्ते प्रखण्ड के बगही, पंजिअरवा, करमवा रघुनाथपुर, उत्तरी मनसिंघा तथा दक्षिणी मनसिंघा पंचायत का प्रखण्ड मुख्यालय से सड़क संपर्क भंग हो गया था।

बाढ़ का पानी उतरने के बाद एकमात्र इस जर्जर पुल के रास्ते जान जोखिम में डाल फिर आवागमन करने को बाध्य हैं। वहीं हाल इस क्षेत्र के परसौना-पंजिअरवा पथ में बना पुल बाढ़ में बहने के साथ ही घटिया निर्माण का पोल खोल रहा है। अब इस रास्ते करीब बीस हजार लोगों के आने जाने के लिए चचरी सहारा बना है। इसको लेकर ग्रामीण विनोद जयसवाल,संतोष झा,शेख सज्जाद,इमरान खान,रूपेश तिवारी,प्रभात झा आदि लोगों ने बताया कि दशकों से प्रखण्ड के इन सभी पंचायतों के विकास को लेकर अधिकारी या जनप्रतिनिधियों ने कभी गंभीरता नही दिखाई। नवनिर्मित महुआनी पुल के ध्वस्त होने के बाद भी अधिकारी गंभीर नही हुए है। जिससे किसी भी समय एक बड़ा हादसा होने से इनकार नही किया जा सकता। प्रतिवर्ष बाढ़ से जहां खेती चौपट होती रही है वहीं इससे सड़कों का टूटना आम बात रही है।

epaper

संबंधित खबरें