DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › मोतिहारी › ठगा महसूस कर रहे हंै सूबे के लाखों शिक्षक
मोतिहारी

ठगा महसूस कर रहे हंै सूबे के लाखों शिक्षक

हिन्दुस्तान टीम,मोतिहारीPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 07:20 PM
ठगा महसूस कर रहे हंै सूबे के लाखों शिक्षक

मोतिहारी। निज प्रतिनिधि

राज्य सरकार सूबे के प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत करीब 3.70 लाख शिक्षकों के साथ दोयम दर्जे का रवैया अपना रही है। बार-बार शिक्षकों को बरगलाने का काम किया जा रहा है। वेतन का भुगतान भी किया जाता है तो ढिंढोरा ऐसे पीटा जाता है जैसे शिक्षकों को खैरात दिया जा रहा है। ये बातें बिहार प्रदेश प्रारंभिक शिक्षक संघ(बीपीपीएसएस) के कार्यकारी अध्यक्ष नवलकिशोर सिंह ने कही। उन्होंने कहा कि शिक्षकों की ऐतिहासिक लंबी चली हड़ताल , उसके बाद सरकार की घोषणा व आदेशों के लागू नहीं होने से शिक्षकों व पुस्तकालयाध्यक्षों में काफी निराशा है। जिससे वे ठगा महसूस कर रहे हैं। इधर, प्रदेश मीडिया प्रभारी मृत्युंजय ठाकुर ने बताया कि कैबिनेट का आदेश व शिक्षा विभाग की अधिसूचना जारी करने के एक साल से अधिक समय बीत जाने के बाद भी अब तक शिक्षकों को 15 प्रतिशत वेतन बढ़ोत्तरी का भुगतान नही ंकिया गया। श्री ठाकुर ने बताया कि शिक्षकों की प्रोन्नति के मामले मे पहले विभाग ने नियम बनाया था कि 7 वर्ष की सेवा के उपरांत शिक्षकों को प्रोन्नति दी जाएगी।बाद में सेवाशर्त मे इसे बदल दिया गया व इसमें भारी बदलाव सरकार द्वारा कर दी गई जिससे अब तक प्रोन्नति का मामला अधर में लटका हुआ है।

संबंधित खबरें