DA Image
9 मार्च, 2021|4:23|IST

अगली स्टोरी

किसान संघर्ष समिति लड़ेगी अगला विधानसभा चुनाव

default image

किसान हितों की रक्षा के लिए किसान संघर्ष समिति ने राजनीतिक दल बनाने का फैसला लिया है। अगले विधानसभा चुनाव में चम्पारण की सभी सीटों पर समिति अपना उम्मीदवार खड़ा करेगी।

यह बातें समिति के राष्ट्रीय संयोजक हरिदयाल कुशवाहा ने गुरुवार को स्थानीय नरसिंह बाबा मंदिर में आयोजित बैठक में कही। उन्होंने कहा कि सरकार की गलती नीतियों के कारण किसान व किसानी दोनों पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं। किसान खेती छोड़ने को मजबूर हैं। खेती को लाभप्रद बनाने के लिए ही समिति ने पार्टी बनाने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि बेतिया राज द्वारा बंदोबस्त जमीन पर किसानों का मालिकाना हक कायम रखने के लिए पार्टी जोरदार आंदोलन करेगी। उन्होंने इस तरह की जमीन की खरीद बिक्री पर से रोक हटाने व किसानों की जमीन का जमाबंदी रद्दीकरण कानून को हटाने की पुरजोर मांग की।

नीलगायों से हर साल हो रही फसल क्षति पर आक्रोश जताते हुए नीलगायों से मुक्ति दिलाने की मांग की। कहा कि बंद नलकूपों को शीघ्र चालू कराया जाय। जिले में सब्जी व कृषि मंडी की स्थापना हो। वृद्ध किसान व मजदूरों को मासिक 2500 रुपये पेंशन दिलाने की आवाज उठायी। पार्टी द्वारा बेरोजगारी दूर करने सहित अन्य कई मुद्दों पर प्रकाश डाला। मौके पर चंद्र किशोर राय,हरेराम महतो, विजय कुमार,राजमंगल प्रसाद, बृजनारायण सिंह,हरिश्चंद्र सिंह, खजांची सिंह,भरत सिंह,रामअयोध्या सिंह, राजकिशोर प्रसाद सिंह,संत कुमार,बनारसी पंडित,प्रमोद कुमार, रमेश कुमार, राजकुमार सिंह, राजेन्द्र सिंह आदि थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kisan Sangharsh Samiti will contest the next assembly elections