Just go to the 4th Katha land dispute - महज 4 कट्ठा भूमि विवाद में गईं दो जानें DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महज 4 कट्ठा भूमि विवाद में गईं दो जानें

घोड़ासहन में सोमवार को हुए दोहरे हत्याकांड की पृष्ठभूमि में चार कट्ठा जमीन का विवाद बताया जाता है ।

ग्रामीण बताते हैं कि कसवा कदमवा ग्राम के रामविलास साह के भाई वैद्यनाथ साह की शादी नेपाल में हुई है। उनकी पत्नी अक्सर नेपाल में ही रहती है । इधर बैद्यनाथ साह ने अपने हिस्से की लगभग 4 कट्ठा जमीन अपने भाई राम विलास साह के नाम रजिस्ट्री कर दी थी । इसी भूखंड को शंभू राय ने बैद्यनाथ साह की पत्नी से अपने नाम लिखा कर इस पर कब्जा कर लिया था। इसके बाद से दोनों गुटों के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई थी। इसको लेकर पूर्व में 28 सितंबर 2017 को शंभू राय के बड़े भाई सुरेंद्र राय की हत्या गांव में ही लाठी से पीटने के बाद गोली मारकर कर दी गई थी । इस मामले में रामविलास साह व उसके पुत्र अवधेश साह के अतिरिक्त गांव के ही आधा दर्जन से अधिक लोगों को आरोपित करते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। इस घटना के बाद 2018 में 15 जुलाई को बाइक सवार अपराधियों ने शंभू राय को उनके गवास पर गोली मारकर गम्भीर रुप से जख्मी कर दिया और भाग निकले । इस घटना के बाद से ही शंभू राय के घर पर सशस्त्र बलों की प्रतिनियुक्ति कर दी गई थी। हालांकि दोनों ही घटनाओं में मुख्य अभियुक्त के रूप में रामविलास साह के पुत्र अवधेश साह को चिन्हित किया गया था लेकिन अब तक उसकी गिरफ्तारी करने में पुलिस सफल नहीं हो सकी। आज के दोहरे हत्याकांड के पीछे भी अवधेश साह की ही मुख्य भूमिका की चर्चा दबी जुबान लोगों के द्वारा की जा रही है । अवधेश साह आपराधिक पृष्ठभूमि का युवक बताया जाता है जो पूर्व में हुए कई आपराधिक मामलों में संलिप्त रहा है पुलिस के अनुसार 2015 में रक्सौल में हुए 10 लाख की रंगदारी मामले में वह जेल जा चुका है तथा समस्तीपुर में भी वह अवैध आग्नेयास्त्र के साथ पकड़ा गया था ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Just go to the 4th Katha land dispute