DA Image
30 नवंबर, 2020|3:31|IST

अगली स्टोरी

चारों ओर होली की उमंग, बाजार गुलजार

चारों ओर होली की उमंग, बाजार गुलजार

दस मार्च मंगलवार को निर्धारित रंगों के त्योहार होली को लेकर नगर के बाजारों में खरीदारों की भीड़ लगनी शुरू हो गयी है। होली को लेकर रंग-बिरंगे मुखौटों और एक से बढ़कर एक डिजाइनों में उपलब्ध पिचकारी ग्राहकों का ध्यान बरबस अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं। होली को लेकर बच्चों के लिए छोटी पिचकारी चालीस से पचास रुपये पीस से लेकर अस्सी रुपये तक,बड़ी पिचकारी एक सौ रुपये से लेकर एक सौ बीस रुपये पीस, बच्चों को लुभाने वाली रंगीन टोपी दस से पंद्रह रुपये प्रति पीस की दर से बिक रही है।

लोगों को आकर्षित कर रहा मोदी मॉडल मुखौटा : नगर के बाजारों में मिक्की माउस का मुखौटा अस्सी रुपये पीस,मोदी मॉडल मुखौटा साठ रुपये पीस ,शेर का मुखौटा पचास रुपये पीस ,ड्रैगन का मुखौटा चालीस रुपये पीस,राक्षस का मुखौटा पचास से अस्सी रुपये,साधु मुखौटा चालीस से साठ रुपये तथा मूंछ-दाढ़ी बीस रुपये पीस की दर से बिक रही है।जिसमें मोदी मॉडल मुखौटा बच्चों को सर्वाधिक आकर्षित कर रहे हैं।

फलों की बिक्री बढ़ी: होली को लेकर पका केला तीस से चालीस रुपये दर्जन,सेब साठ से अस्सी रुपये प्रति किलो,अनार व अंगूर एक सौ रुपये किलो की दर से बिक रहा है। वहीं छुहारा व बादाम एक सौ बीस रुपये किलो तथा गोला नारियल तीस रुपये पीस की दर से बिक रहा है। होली को लेकर बाजार में चहल पहल रही।

सिद्धि व साधनाओं का पर्व है होली,होलिकादहन आज: होली की रात्रि को पूजा,अनुष्ठान और साधना के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है।इस रात्रि में की गयी साधना बहुत फलदायी होती है।होली वर्ष में एक बार आती है और साधकों को साधनाओं का सर्वोत्तम अवसर दे जाती है।वेद विद्यालय के प्राचार्य सुशील कुमार पाण्डेय बताते हैं कि इस वर्ष होलिका दहन नौ मार्च सोमवार की रात्रि ग्यारह बजकर छब्बीस मिनट के पहले कभी भी किया जा सकता है। होलिकादहन के अवसर पर ऊं होलिकायै नम:का मंत्रोच्चार करते हुए विधिपूर्वक पूजन कर होलिका दहन किया जाएगा और मंगलवार की सुबह होलिका के भस्म को मस्तक पर लगाकर भावी संवत्सर की मंगलकामना की जायेगी। होलिका की अग्नि में नयी फसल को भूनकर प्रसाद स्वरुप खाने का विधान है। इस पर्व को नव संवत्सर का आरंभ व वसंतागमन के उपलक्ष्य में किया हुआ यज्ञ भी माना जाता है।

कुर्ता व पजामा की बिक्री रही तेज

रंगो का त्योहार होली को लेकर नगर के रेडिमेड वस्त्रोंकी दुकानों पर एक से बढ़कर एक लाल,पीले,हरे,नीले व सफेद रंगों के कुर्ते बिक्री के लिए लगाये गये हैं। नगर परिषद के आसपास की दुकानों पर तीन सौ से लेकर साढ़े तीन सौ रुपये प्रति पीस की दर से चिमकी लगे कुर्तों की बिक्री की जा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Holi festival around market buzzing