DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ढाका के मोहित यूपीएससी तक पहुंचे

ढाका के मोहित यूपीएससी तक पहुंचे

ढाका थानान्तर्गत हनुमान नगर गांव के एक लड़के ने यूपीएससी की परीक्षा में बाजी मार क्षेत्र का नाम रौशन किया है। डा. प्रो. मदन कुमार चौधरी के इकलौते पुत्र मोहित कुमार ने दूसरी बार में यह सफलता हासिल की है। उसे पूरे देश में 606 वां रैंक मिला है। ‘हिन्दुस्तान से फोन पर हुयी बातचीत में मोहित ने बताया कि मंजिल अभी बाकी है। अच्छे रैंक के लिए अगली बार वे पुन: परीक्षा देंगे। उन्होंने कहा कि मन में विश्वास रखना चाहिए। समय पर ही सब कुछ मिलता है। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता, पिता व शिक्षक को दिया है। मोहित के पिता चैपमैन इंटर कॉलेज मुजफ्फरपुर में प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं। उनकी मां गृहिणी हैं। उनका पूरा परिवार मुजफ्फरपुर में ही रहता है। मोहित की प्रारंभिक परीक्षा डीएवी, मुजफ्फरपुर से शुरू हुयी है। उसके बाद आर के मिशन, देवघर से सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा पास की। कोटा से उच्च शिक्षा प्राप्त कर वे धनबाद से आईआईटी की परीक्षा पास की। दिल्ली में प्राइवेट जॉब छोड़ मोहित ने यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी में लग गये। लेकिन, पिछले साल महज एक अंक से लिखित परीक्षा में सफल नहीं हो पाये। वे बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश महासचिव केशव कुमार के चचेरे भाई हैं। यूपीएससी की परीक्षा में ढाका प्रखंड से सफल होनेवाले मोहित तीसरे प्रतिभागी है। इसके पूर्व वर्ष 2002 में तेलहारा कला के आलोक रंजन झा, जो पूरे देश में टॉपर थे। दूसरे वर्ष 2015 में भंडार की पूर्व जिप सदस्य पूनम चंचल की पुत्री अंकिता श्री ने सफलता हासिल की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dhaka's mohit UPSC reached