DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

19 हजार परिवारों को मिल रहा लाभ

2014 के पहले भी डीआरडीए के माध्यम से समूह बनता था, जिनकी धरातल पर आधारभूत संरचना नहीं थी। परन्तु जब गरीब का बेटा देश का प्रधानमंत्री बना, तब शहरी व ग्रामीण आजीविका मिशन के माध्यम से समूह बनाने का कार्य आरंभ हुआ। आज सिर्फ अरेराज प्रखंड में 1644 समूह बने हैं। उसका लाभ 19 हजार परिवार की महिलाओं को मिल रहा है।

इन समूहों को रोजगार के लिए साढ़े चौदह करोड़ से अधिक राशि विभिन्न बैंकों से मुहैया करायी गयी है और एक भी समूह एनपीए नहीं हुआ है। यह बातें केन्द्रीय कृषि सह किसान कल्याण मंत्री राधामोहन सिंह ने सोमवार को सोमेश्वरनाथ उच्च विद्यालय परिसर में आयोजित दीनदयाल अंत्योदय राष्ट्रीय शहरी व ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत स्वयं सहायत समूह का महिला सशक्तीकरण कार्यक्रम में शामिल जीविका दीदीयों को संबोधित करते हुए कही। इस दौरान मंत्री श्री सिंह ने 281 समूहों के लिए दो करोड़ सतहत्तर लाख रुपये का एसबीआई का चेक दिया। गोविन्दगंज के विधायक राजू तिवारी ने संबोधित करते हुए कहा कि देश के विकास के लिए परिवार का और परिवार के विकास के लिए महिलाओं का विकास होना जरूरी है। मौके पर जीविका के बीपीएम राकेश कुमार, शाखा प्रबंधक संतोष कुमार, सीबीआई के शाखा प्रबंधक राघवेन्द्र शंकर, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष सुनील मणि तिवारी, जिला महामंत्री अनिल राय, योगेन्द्र गिरि, राजेन्द्र स्वर्णकार, मुनि देवी, कृति कुमारी,शकीरा खातून,नजमा खातून व राधिका कुमारी आदि शामिल थीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Benefits of getting 19 thousand families