DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पिकअप से कुचल आशा कार्यकर्ता की मौत

मॉर्निंग वाक के दौरान हुआ मीरपुर गांव में हादसा घटना के विरोध में ग्रामीणों ने तीन घंटे तक रखा सड़क जाम चिरैया पीएचसी में कार्यरत थीं आशा कार्यकर्ता ढाका-मोतिहारी मुख्य पथ में मीरपुर स्थित खड़हुल पुल के पास गुरुवार को मॉर्निंग वाक कर रहीं आशा कार्यकर्ता को अज्ञात पिकअप वैन ने कुचल दिया। घटनास्थल पर ही आशा कार्यकर्ता की मौत हो गयी। मृतका अंजली देवी (40) मीरपुर गांव निवासी सुरेश प्रसाद की पत्नी थी। इससे आक्रोशित लोगों ने ढाका-मोतिहारी पथ को मीरपुर पोखर के पास शव के साथ जाम कर दिया। लोगों ने करीब तीन घंटे तक यातायात पूरी तरह से ठप रखा। इस कारण सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गयी। सूचना पर सीओ मो. रेयाज शाहिद व थानाध्यक्ष अवधेश कुमार मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों के साथ सकारात्मक वार्ता के बाद जाम समाप्त हुआ। सीओ ने बताया कि अंजली देवी चिरैया पीएचसी में आशा कार्यकर्ता के पद पर तैनात थीं। उनके पति सिक्किम में रहते हैं। परिजनों ने उन्हें इसकी सूचना दे दी है। उनके आने के बाद अंतिम संस्कार किया जाएगा। थानाध्यक्ष ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिये सदर अस्पताल भेज दिया गया है। अज्ञात पिकअप वैन की तलाश की जा रही है। मामले में आवेदन मिलने पर एफआईआर दर्ज की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:asha Worker's death crushed with pickup