Sunday, January 23, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार मोतिहारीसिकरहना में 67 नलकूप में 24 पड़े है खराब

सिकरहना में 67 नलकूप में 24 पड़े है खराब

हिन्दुस्तान टीम,मोतिहारीNewswrap
Sat, 04 Dec 2021 11:40 PM
सिकरहना में 67 नलकूप में 24 पड़े है खराब

सिकरहना | निज संवाददाता

सिकरहना अनुमंडल में 67 सरकारी नलकूप है, जिसमें 43 ही चालू हालत में है। 24 खराब पड़े है। कहीं बोर की समस्या है तो कहीं बिजली की समस्या। जो चालू हालत में है उससे भी सिंचाई करने में परेशानी हो रही है। सिंचाई के लिए बनाये गये नाला कई जगहों पर ध्वस्त हो गये है, जिससे सिंचाई प्रभावित होता है। अब नलकूप के देखरेख व मेंटनेंस की जिम्मेवारी मुखिया की हो गयी है। नलकूप के चालू नहीं रहने के कारण किसानों को निजी पंप सेट के भरोसे रहना पड़ता है, जिससे सिंचाई करने में ज्यादा खर्च होता है। किसानों को सिंचाई का पटवन देना पड़ता है लेकिन इसका लाभ नहीं मिल पाता है। जहां नलकूप चालू है वहां उसे चलाने के लिए कर्मचारी नहीं है। लघु सिंचाई विभाग ढाका के जेई मुकेश कुमार ने बताया कि ढाका प्रखंड में 26 में 13 नलकूप चालू हालत में है। वहीं घोड़ासहन, चिरैया व बनकटवा के जेई सरोज कुमार ने बताया कि इन तीनों प्रखंड में कुल 41 नलकूप है, जिनमें 30 चालू है। शेष खराब पड़ा है। कहीं बिजली के कारण तो कहीं मशीन व बोर खराब है। उन्होंने बताया कि गंभीर गड़बड़ी होने पर मुखिया द्वारा लिखित दिये जाने पर विभाग को मरम्मत के लिए लिखा जाता है नहीं तो छोटे छोटे खराबी को ठीक कराने के लिए मुखिया को अधिकृत किया गया है। उन्होंने बताया कि पंचायतों में मुखिया द्वारा कार्य कराये जाने के बाद जो वाउचर देंगे वह राशि उनके खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी। इधर, सहायक अभियंता सुमीत कुमार ने बताया कि जहां जहां गड़बड़ी है उसका प्राक्कलन तैयार कर विभाग को भेजा गया है।

epaper

संबंधित खबरें