ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार मधुबनीसुखेत हत्याकांड: सहमे परिवार को दी गई पुलिस की सुरक्षा

सुखेत हत्याकांड: सहमे परिवार को दी गई पुलिस की सुरक्षा

सुखेत हत्याकांड के चार दिन गुजर गए हैं। हत्यारा अभी तक खुला घूम रहा है। हत्यारे के ससुराल में रहने वाले परिवार के बचे हुए लोग दहशत में हैं। खासकर...

सुखेत हत्याकांड: सहमे परिवार को दी गई पुलिस की सुरक्षा
हिन्दुस्तान टीम,मधुबनीTue, 14 May 2024 10:00 PM
ऐप पर पढ़ें

झंझारपुर, निज प्रतिनिधि। सुखेत हत्याकांड के चार दिन गुजर गए हैं। हत्यारा अभी तक खुला घूम रहा है। हत्यारे के ससुराल में रहने वाले परिवार के बचे हुए लोग दहशत में हैं। खासकर हत्या की घटना को अपनी आंखों से देखने वाले चश्मदीद गवाह बन गए दो बच्चों की सुरक्षा पर चिंता बढ़ रही है। ये बच्चे हत्यारे के साले संतोष महतो की 8 वर्षीय पुत्री सुहानी एवं 4 वर्षीय पुत्र सचिन है। उनके पिता संतोष एवं उनकी मां श्वेता देवी काफी चिंतित है। दोनों मां पिता कहते हैं कि जब उनकी बहन का पति अपनी ही पत्नी सास और अपने बच्चों को मार दिया तो इस घटना को देखने वाले हमारे बच्चे को मौका मिलते ही छोड़ेगा नहीं। झंझारपुर के थानाध्यक्ष रंजीत कुमार को भी परिवार के लोगों ने अपनी चिंता जताई और सुरक्षा को लेकर डर के माहौल में जीने की बात कही। तत्काल थानाध्यक्ष ने इसी पंचायत के रहने वाले चौकीदार विकास कुमार एवं अजय कुमार को इस घर की सुरक्षा में तैनात किया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि दोनों चौकीदार को वहीं रहकर सुरक्षा करने का निर्देश दिया गया है। किसी भी प्रकार की असुरक्षा की स्थिति उत्पन्न होने पर तुरंत ही पुलिस को सूचना देने का निर्देश दिया गया है।

चौकीदार की तैनाती के बाद कुछ हद तक परिवार के लोग राहत महसूस कर रहे हैं। मगर संतोष की तीन बहने पूनम देवी, राधा देवी, सुनैना देवी को अभी भी भाई-भाभी एवं उनके दोनों बच्चे की चिंता सताए जा रही है। वे सभी विवाहित हैं और हत्या की बात सुनकर सुखेत पहुंचे थे। बहनों का कहना है कि वे लोग कुछ दिन के बाद अपने ससुराल चले जाएंगे। उसके बाद उनके भाई भाभी और खास कर दोनों बच्चों की सुरक्षा तब तक सुनिश्चित नहीं होगी जब तक कि वह वहशी दरिंदा हत्यारा पवन महतो गिरफ्तार नहीं हो जाता।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें