DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एसआईटी करेगी किशोरी हत्या की जांच

फुलपरास के महादेवमठ में 25 मई को एक किशोरी हत्याकांड मामले की जांच एसआईटी करेगी। दरभंगा रेंज के डीआईजी विनोद कुमार के निर्देश पर एसआईटी का गठन किया गया है। इस मामले में एडीजी मुख्यालय एसके सिंघल ने पटना में भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एसआईटी गठन की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इसमें मधुबनी महिला थाना की प्रभारी कंचन कुमारी समेत चार पुलिसवालों को शामिल किया गया है। एसआईटी का गठन झंझारपुर एसडीपीओ आईपीएस निधि रानी के नेतृत्व में किया गया है। डीएम मधुबनी गिरिवर दयाल सिंह ने यह जानकारी दी। कहा कि कई तरह के सोशल मीडिया में ये बातें आ रही हैं कि बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ है। यह बिल्कुल गलत है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक बच्ची के साथ न तो दुष्कर्म हुआ है। न उसे जलाया गया है। न उसपर एसिड अटैक हुआ है। ये तीनों चीजें जो सोशल मीडिया और अन्य जगहों पर आ रही हैं वो गलत हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से यह स्पष्ट है कि गला दबाकर बच्ची की हत्या की गई है। इस दुखद घटना से पूरा जिला प्रशासन दुखी है। पुलिस हर हाल में अपराधियों को स्पीडी ट्रायल दिलाकर सजा दिलवाएगी। पारिवारिक विवाद में हुई है हत्या: प्रारंभिक जांच में जो बातें सामने आ रही हैं उससे स्पष्ट है कि पारिवारिक विवाद में बच्ची की हत्या हुई है। ऐसा लग रहा है कि कोई उस लड़की की बुआ की शादी को डिस्टर्ब करना चाहता था साथ ही लालू झा और पवन झा को इस मामले में गिरफ्तार किया गया है। घर से डेढ़ किमी. दूर मिली लाश: डीएम ने कहा कि 25 को अपहरण की बात सामने आई। हालांकि बच्ची को छोड़ने के ऐवज में किसी ने राशि की मांग नहीं की। पुलिस पूरी मुश्तैदी से काम कर रही थी। तभी 27 को बच्ची का शव घर से डेढ़ किलोमीटर दूर मिला।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:SIT will investigate teen killings