DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रकृति के संतुलन के लिए पौधरोपण जरूरी : मंत्री

default image

आपदा प्रबंधन मंत्री लक्ष्मेश्वर राय ने कहा कि प्रकृति के संतुलन को बनाये रखने के लिए पौधरोपण जरूरी है। यह न केवल मानवों के लिए बल्कि अन्य प्राणियों के लिए भी अनिवार्य है। श्री राय प्रखंड मुख्यालय स्थित नये प्रशिक्षण भवन परिसर में आयोजित वन महोत्सव के अवसर पर उपस्थित जनप्रतिनिधियों को सम्बोधित कर रहे थे। सीएम नीतीश कुमार के द्वारा क्रांति दिवस पर प्रारंभ की गई इस अभियान के उदेश्य पर उन्होंने विस्तार से प्रकाश डाले। डीडीसी अजय कुमार सिंह ने कहा कि जिला को दो लाख 64 हजार पेड़ों को लगाने का लक्ष्य मिला है। पहले चरण में सरकारी जगहों को चिन्हित कर इसे लगाया जा रहा है। फिर निजी जगहों पर भी इसे लगाया जाने की योजना है। उन्होंने कहा कि एक यूनिट में 200 पेड़ लगाये जाते है, इसकी देख रेख के लिए वन रक्षक को भी रखा जाता है। इससे होने वाले लाभों की चर्चा करते हुए उन्होंने सभी से इसमे बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने और अभियान को सफल बनाने की बात कही। उन्होंने कहा कि इसे 15 अगस्त तक करना था, लेकिन अब समय को आगे भी बढ़ाया जाएगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रखंड प्रमुख वरूण कुमार बिहारी ने की। जिप सूर्य नारायण यादव, राजनारायण चौधरी, पीओ अरविन्द चन्द्र दास, उपप्रमुख दशन मंडल, तेजनारायण मंडल, कुलेश्वर प्रसाद, राजेश कुमार, मिथिलेश कुमार, पूनम कुमारी, राकेश कुमार, सुरेन्द्र गुप्ता,रवि कुमार आदि थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Plantation is necessary for the balance of nature Minister