DA Image
28 नवंबर, 2020|1:25|IST

अगली स्टोरी

जलजमाव वाले मुहल्लों में कैद हैं लोग

default image

शहरी क्षेत्र के एक दर्जन से अधिक मुहल्ले डूबे हुए हैं। चार पंपिंग सेट लगे हैं वार्ड 11 से 14 में जल निकासी के लिए। थाना टोल, गरही टोल, मकरी टोल, दास मुहल्ला, सुभाष चौक, शिक्षक कॉलोनी, आनंद पुर, वार्ड सात के बांध किनारे, बिजली ऑफिस वाली गली, विद्या नगर, हथियरवा, युनियन टोल सर्वत्र त्राहिमाम है। इनमें अधिकांश परिवार घरों में कैद हैं। खाना बनाने व शौचालय जाने में परेशानी। पानी में कमर भर उतर कर रोज मर्रा के सामान खरीदने निकलते हैं। कई लोग बीमार हैं। इलाज के लिये निकलना मुश्किल हो रहा है। श्रवण पासवान, राहुल कुमार, सत्य देव प्रसाद, जिलेबिया देवी, राम दुलारी देवी सहित कई लोगों ने बताया कि जल-जमाव का ऐसा नजारा अब तक नहीं देखा।

पानी में गिरा बिजली तार, बाल-बाल बचे:

मधुबनी। राजनगर के राघोपुर बलाट गांव में बारिश के दौरान 11 हजार बोल्ट का बिजली तार गिर गया। इससे अफरा-तफरी मच गई। गनीमत रही कि लोग बच गए। जिस समय बिजली तार गिरी उस समय घर के लोग चौकी पर बैठे थे। ग्रामीणों ने चकदह पावर सब-स्टेशन के कनीय अभियंता को आवेदन देकर तार हटाने की गुहार लगाई है। राजेंद्र साह, अरुण मंडल, सूर्यनारायण मंडल, चंदन, विकास व अन्य ने अधिकारी को बताया कि 20 जुलाई को मूसलाधार बारिश होने से राजेंद्र साह के आवासीय परिसर में पानी जमा था। इसी दौरान 11 हजार बोल्ट का बिजली तार गिर गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:People are imprisoned in waterlogged neighborhoods