DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चिकित्सक पर एफआईआर का आदेश

मधेपुर बाजार के संगत चौक पर निजी नर्सिंग होम चला रहे चिकित्सक डॉ. बाबू साहेब झा की डिग्री कथित तौर पर फर्जी निकली। इस बाबत मधेपुर के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. डी चौधरी ने उनके विरूद्घ थाने में एफआईआर दर्ज करने के लिए आवेदन दिया है।

एफआईआर के लिए यह आवेदन सिविल सर्जन के आदेश पर दिया गया है। हालांकि, समाचार लिखे जाने तक थाने में एफआईआर दर्ज नहीं हो सकी थी। आवेदन में पीएचसी प्रभारी ने कहा है कि उच्चाधिकारी को जांच के दौरान डॉ. बाबू साहेब झा द्वारा अपना बीएएमएस का प्रमाण पत्र उपलब्ध कराया गया था। उस प्रमाण पत्र को जांच में बिहार राज्य आयुर्वेदिक व यूनानी चिकित्सा परिषद, पटना ने फर्जी करार दिया है। उच्चाधिकारियों को फर्जी प्रमाण पत्र उपलब्ध करा नर्सिग होम चलाना द्गिभ्रमित करना है। मालूम हो कि विगत करीब 12 वर्ष से मधेपुर बाजार के संघत चौक पर वीएएमएस की डिग्री के सहारे डॉ बाबूसाहेब झा निजी नर्सिंग होम खोलकर इलाज कर रहे हैं।

यहां मरीजों का ऑपरेशन भी किया जाता है। यह खुलासा पूर्व में भी अधिकारियों द्वारा नर्सिंग होम के निरीक्षण के दौरान सामने आ चुका है। इस संबंध में डॉ बाबू साहेब झा ने बताया कि उनका प्रमाण पत्र सही है। जो समय पर साबित कर देंगे। नर्सिंग होम में मरीजों के इलाज के लिए चिकित्सक नियुक्त हैं। मधेपुर थानाध्यक्ष अमित कुमार ने बताया कि पीएचसी प्रभारी के द्वारा दिया गया आवेदन अपूर्ण रहने के कारण एफआईआर दर्ज नहीं की जा सकी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Order of FIR on physician