DA Image
22 सितम्बर, 2020|8:58|IST

अगली स्टोरी

आवास का लाभ नहीं दिये जाने पर नोकझोंक

आवास का लाभ नहीं दिये जाने पर नोकझोंक

नगर परिषद बोर्ड की बैठक की शुरूआत ही इसकी प्रासंगिकता के सवाल से शुरू हुआ। सोमवार को इओ आशुतोष आनंद चौधरी की अनुपस्थिति के बाद इस बैठक की प्रासंगिकता पर सवाल उठाते हुए कुछ पार्षदों ने इसे स्थगित करने की मांग की। पूर्व चेयरमैन सह पार्षद महारानी देवी ने कहा कि बैठक में इओ है ही नहीं तो पार्षदों के सवाल का उत्तर कौन देगा। समस्याओं के समाधान की राह में क्या बाधाएं हैं, कैसे जानकारी मिलेगी। इनका समर्थन कुछ पार्षदों ने किया और कहा कि जब पहले यह तिथि 28 को थी तो इओ ने सीएम के कार्यक्रम को लेकर इसे बढ़ाने का आग्रह किया और इसे 31 को किया गया। ऐसे में यदि उन्हें नहीं रहना था तो अगली तिथि क्यों न रखी गयी। इसका समर्थन प्रभावती देवी और पूनम कुमारी ने भी किया। बाद में वार्ड-19 के पार्षद सुभाष चंद्र मिश्रा व वार्ड-21 के पार्षद मनीष कुमार सिंह ने बैठक कर एजेंडा पर निर्णय लेने का आग्रह किया। इसके बाद कार्यवाही शुरू हुई। चेयरमैन सुनैना देवी की अध्यक्षता में हुई बैठक में वायस चेयरमैन वारिस अंसारी, मनीष कुमार सिंह, उमेश प्रसाद, मो. इश्तियाक, प्रभावती देवी, सुभाष चंद्र मिश्र, धर्मवीर प्रसाद, जयशंकर प्रसाद, विनिता देवी, अरुण राय, जामून सहनी, रेहाना खातून, शबाना परवीन, निर्मला देवी, आदि ने चर्चा में भाग लिये। 29 सदस्यों वाले इस सदन में पांच सदस्य अनुपस्थित रहें। बैठक में प्रभारी प्रशिक्षु आईएएस प्रीति गहलोत, सिटी मैनेजर नीरज कुमार झा प्रमोद वर्मा आदि थे।

विभिन्न मुद्दे पर हुई तीखी बहस:

बैठक में गत बैठक और सशक्त स्थायी समिति के निर्णय के अनुमोदन के सवाल पर तीखी बहस हुई। पार्षदों ने इसकी प्रति हर सदस्यों को उपलब्ध कराने की मांग की। बात में यह तय हुआ कि इसमें नियमानकूल कार्रवाई होगी। हालांकि नप की ओर से कुछ प्रस्ताव वरीय कर्मी उदय चंद्र झा ने पढ़कर सुनाया। कोविड-19 के तहत हुए काम की चर्चा के दौरान यह तय हुआ कि अगली बैठक में संबंधित कर्मी सेनेटरी इंस्पेक्टर अनिल झा पूरी संचिका लेकर उपस्थित रहेंगे। वहीं आवास योजना पर चर्चा शुरू होते ही तीखी बहस होने लगी। मुख्य पार्षद को अधिकृत किया गया कि अपने स्तर से पांच वार्ड पार्षदों को मनोनीत कर डीएम से उनके द्वारा योजना के क्रियान्वयन पर लगायी गयी रोक को हटाने का आग्रह करेंगे। वहीं विभागीय योजनाओं में पंचायती राज एक्ट के तहत योजनाओं की स्वीकृति प्रदान की जायेगी

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Noises on not being given the benefit of housing