DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकतंत्र की मजबूती को निष्पक्ष पत्रकारिता जरूरी : दरिहरे

लोकतंत्र की मजबूती के लिए निष्पक्ष और स्वतंत्र पत्रकारिता का होना जरूरी है। आज के दौर में पत्रकारिता पर विधायिका और कार्यपालिका हावी हो रहा है। जो लोकतंत्र के लिए खतरा है। जनतंत्र को भी इस बात को समझना होगा कि देश हित में पत्रकारिता को स्वतंत्र रहना जरूरी है।

बेनीपट्टी के बरहा गांव में हिन्दी पत्रकारिता दिवस पर आयोजित संगोष्ठी सह पत्रकार सम्मान समारोह में साहित्यकार एवं साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित व बिहार पुलिस होमगार्ड के एसपी पद से अवकाश प्राप्त श्याम दरिहरे ने कही। कार्यक्रम का आयोजन ट्राइडेंट सेवा के द्वारा आयोजित किया गया था जिसकी अध्यक्षता मनीष कुमार झा ने किया।

संस्था के प्रदेशा अध्यक्ष विवेकानंद ठाकुर ने कहा कि लोकतंत्र के चारो स्तंभों को संतुलित रूप में रहना देश हित में है। इनकी स्वतंत्रता पर कुटारघात कभी भी हितकर नहीं होगा। कृष्णेश्वर ठाकुर ने कहा कि लोकतंत्र की बुनियाद मजबूत करने में पत्रकार का दयित्व अहम है। हिन्दी पत्रकारिता आज भी सबसे लोकप्रिय है। इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया के विस्तार के बावजूद आज भी हिन्दी पत्रों की विश्वसनीयता कायम है। इस अवसर पर स्थानीय पत्रकारों को पाग-दोपटा से सम्मानित किया गया। मौके पर उज्जवल चौधरी, गुलाब साह, उपेंद्र यादव, राजन झा, जय कुमार साह, जीवकांत झा, मनोज यादव,, मनोज ठाकुर, राधे ठाकुर, अरूण झा, ललन झा, सूरज ठाकुर, दीपक मंडल, सुभाष यादव, पत्रकार आमोद झा, संतोष मिश्र, धनंजय कुमार, विनोद कुमार, राहु़ल कुमार थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Neutral journalism is essential for the strengthening of democracy darhire