DA Image
24 जनवरी, 2021|3:02|IST

अगली स्टोरी

मास्क और शारीरिक दूरी ही है बचाव का मूल मंत्र

default image

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी गाइडलाइन में यह स्पष्ट बताया गया है कि कोरोना के संक्रमण से बचाव का सबसे सुरक्षित तरीका है शारीरिक दूरी का पालन करना। कोरोना का संक्रमण लोगों के आपसी संपर्क में आने से तेजी से फैलता है और यह पता करना कठिन होता है कि संक्रमण की शुरुआत किस व्यक्ति से हुई है। इसलिए सरकार निरंतर लोगों को शारीरिक दूरी अपनाने की विनती कर रही है। अपने कार्यस्थल में अथवा बाजार में 6 फुट की दूरी रखकर और मास्क का प्रयोग करके खुद को कोरोना के संक्रमण से बचाया जा सकता है। मास्क का उपयोग करते समय यह ध्यान रखने की जरुरत है कि इसकी नियमित सफाई भी की जा रही है। मास्क को बार-बार उपर-नीचे करने से बचना चाहिए। यह संक्रमण के खतरे को बढ़ा सकता है। हाथों की साबुन पानी या अल्कोहल युक्त सैनीटाइजर से नियमित सफाई करके भी खुद को इस महामारी के चपेट में आने से बचाया जा सकता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Mask and physical distance are the basic mantra of rescue