Handicraft training - हस्तकला का दिया गया प्रशिक्षण DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हस्तकला का दिया गया प्रशिक्षण

आरएस स्थित क्रीड़ा भवन में हस्तकला जागरूकता शिविर का आयोजन किया जा रहा है। केंद्रीय वस्त्र मंत्रालय के तत्वावधान में हो रहे आयोजन का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण महिलाओं को विभिन्न जनोपयोगी सामान बनाने के प्रति जागरूक करना है।

जागरूकता शिविर का उद्घाटन एसडीएम अंशुल अग्रवाल, सहायक निदेशक वस्त्र विभाग मुकेश कुमार एवं बेहट दक्षिणी पंचायत के मुखिया अमरनाथ झा ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। शिविर में हस्त कलाकार अपने बनाये कलाकृतियों की प्रदर्शनी भी लगाए हैं, जो काफी लुभावनी दिखती है। ग्रामीण महिलाओं की भीड़ बढ़ती जा रही है। एसडीएम अंशुल अग्रवाल ने कहा कि भारत सरकार एवं बिहार सरकार स्थानीय स्तर पर कलाकार को निखारने के लिए इस तरह का आयोजन कर रही है। घरों में बनाने वाले कलाकार को उचित प्लेटफार्म के साथ आर्थिक मजबूती भी देना उद्देश्य है।

सरकार द्वारा उचित प्रशिक्षण देकर आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में लगातार काम हो रहा है। लोगों से ऐसी आकृति खरीदने की भी अपील की गई ताकि कलाकारों का मनोबल बढ़े। प्रदर्शनी में बांस कला, हस्तकला, मिथिला पेंटिंग, बुनाई, कढ़ाई, दरी, सुजनी, सजावट के सामान, पेपर मेसी सहित अन्य विधा की आकृति व सामान रखा गया था। साथ ही लोगों को प्रशिक्षण भी दिया जा रहा था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Handicraft training