ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार मधुबनीजर्जर छात्रावास भवन में रह रहीं छात्राएं

जर्जर छात्रावास भवन में रह रहीं छात्राएं

बिस्फी प्रखंड मुख्यालय परिसर स्थित कस्तूरबा बालिका विद्यालय छात्रावास का भवन भी काफी पुराना एवं जर्जर...

जर्जर छात्रावास भवन में रह रहीं छात्राएं
हिन्दुस्तान टीम,मधुबनीThu, 22 Feb 2024 12:00 AM
ऐप पर पढ़ें

बिस्फी, निप्र। प्रखंड मुख्यालय परिसर स्थित कस्तूरबा बालिका विद्यालय छात्रावास का भवन भी काफी पुराना एवं जर्जर है। छात्रावास में चार कमरे हैं। एक-एक कमरे में 25-25 छात्राएं रहती हैं। शौचालय की स्थिति अच्छी नहीं है। छात्रावास में नूरचक, चहुटा, बिस्फी समेत आसपास के क्षेत्रों के परिवार की छात्राएं पढ़ती हैं। इन्हें पढ़ाने के लिए केवल एक शिक्षिका सोशल साइंस की है। गणित, साइंस और हिन्दी शिक्षक नहीं हैं। इसके कारण छात्राओं की पढ़ाई ठीक से नहीं हो पा रही है। पहले चार शिक्षिकाएं थी। इसमें तीन बीपीएससी परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद यहां से चली गयी। छात्रावास में एकाउन्टेट का पद भी रिक्त है। कार्यरत वार्डेन और शिक्षकों को समय पर मानदेय भी नहीं मिल पाता है। छात्रावास की वार्डेन सबिता कुमारी ने बताया कि शिक्षक की नियुक्ति और जर्जर भवन को लेकर विभाग को सूचना दी गयी है। छात्रावास में रहने वाली छात्राओं को दो टाइम भोजन और सुबह-शाम नाश्ता दिया जाता है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें