DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सभी बैंकों में झूलते रहे ताले

सभी बैंकों में झूलते रहे ताले

राष्ट्रव्यापी हड़ताल के पहले दिन बुधवार को जिले के सभी बैंक की शाखाओं में ताले लटके रहे। किसी भी शाखा पर कामकाज नहीं हुआ। बैंक बंदी की पहले से सूचना ग्राहकों को नहीं रहने की वजह से परेशानी झेलनी पड़ी। हालांकि एटीएम पर ग्राहकों की भीड़ दिखी। पर शाम होते-होते कई एटीएम कंगाल हो गये। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन के आह्वान पर बैंकों में दो दिवसीय हड़ताल रखी गई है।

फोरम के सदस्यों ने केनरा बैंक, स्टेट बैंक, बैंक ऑफ इंडिया तथा अन्य बैंकों के समक्ष सैकड़ों की संख्या में बैंक कर्मचारियों ने 11 वें वेतन समझौते लागू करने मांग को लेकर आवाज बुलंद की। सभी रोषपूर्ण प्रदर्शन करते हुए जमकर नारेबाजी की। शहर में विरोध स्वरूप मोटर साइकिल रैली भी निकाली गई। वहीं प्रदर्शन के बाद फोरम के सदस्यों ने शहर के सूड़ी हाई स्कूल के समीप एसबीआई की एडीबी शाखा में एक सभा रखी।

सभा को संबोधित करते हुए यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन के संयोजक रामाशंकर प्रसाद ने कहा कि इंडियन बैंक एसोसिएशन द्वारा रखा गया 2 प्रतिशत वेतन बढ़ोतरी का

प्रस्ताव बेहद शर्मनाक है। जिस वजह से सभी बैंक कर्मियों में आक्रोश है।

सभी आंदोलन पर हैं। गुरुवार को

भी सभी बैंक बंद रहेंगे। फोरम के अध्यक्ष अवधेश प्रसाद ने कहा कि

इस मांग को लेकर आगे भी आंदोलन जारी रहेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Floating in all the banks.