DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  मधुबनी  ›  प्रतिदिन 1025 लोगों की होगी कोरोना की जांच
मधुबनी

प्रतिदिन 1025 लोगों की होगी कोरोना की जांच

हिन्दुस्तान टीम,मधुबनीPublished By: Newswrap
Wed, 23 Jun 2021 11:00 PM
प्रतिदिन 1025 लोगों की होगी कोरोना की जांच

मधुबनी, नगर संवाददाता

अब जिले में प्रतिदिन 1025 लोगों की आरटीपीसीआर व ट्रूनेट के माध्यम से कोरोना की जांच होगी। कोरोना के सक्रमण दर में कमी आने के बाद जांच में भी कमी लायी जाएगी।

इसके लिए पत्र के माध्यम से लक्ष्य को संशोधित किया गया है। अब आरटी—पीसीआर टेस्ट व ट्रू—नेट जांच के लिये अलग—अलग लक्ष्य दिये हैं। मधुबनी जिले में आरटी—पीसीआर जांच के लिये प्रतिदिन 800 व ट्रू—नेट जांच के लिये प्रतिदिन 225 लोगों का सैंपल लिया जाना है। साथ ही सैंपलों की जांच के लिये डीएमसीएच को टैग किया गया है। जिससे जांच के बाद जल्द से जल्द लोगों को रिपोर्ट सौंपी जा सके। लोगों से अपील की जा रही है कि कोरोना के सामान्य लक्ष्य दिखने पर तत्काल इसकी जांच करायें और रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर चिकित्सकों की सलाह लेते हुये इलाज करायें।

सीएस डॉ. सुनील कुमार झा ने बताया कि राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने पत्र भेजकर कहा है कि जिले में जांच की संख्या बढ़ाने के साथ ट्रू नेट व आरटी—पीसीआर टेस्टिंग की संख्या को को कम किया गया है। ताकि टेस्टिंग वैन के लिए निर्धारित दैनिक न्यूनतम जांच लक्ष्य को पूरा किया जा सके। लक्ष्य के अनुरूप कोविड टेस्टिंग कार्य सम्पन्न करने का निर्देश दिया है। कोरोना से संक्रमित लोगों की पहचान के लिये अधिकांश सरकारी अस्पतालों में नई ट्रू नेट मशीन कार्यरत है। इस क्रम में राज्य सरकार की ओर से कोविड जांच की सुविधा सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों तक सुलभ कराने के उद्देश्य से चलंत आरटी—पीसीआर टेस्टिंग वैन का संचालन किया जा रहा है।

संबंधित खबरें