DA Image
13 जनवरी, 2021|8:43|IST

अगली स्टोरी

जिरो टिलेज पद्धति से खेती साबित होगा मील का पत्थर

default image

कृषि विभाग द्वारा संचालित जीरो टिलेज यंत्र से सप्ता गांव में किसानों के गेहूं खेती का संयुक्त कृषि निदेशक, डीएओ एवं बीएओ ने निरीक्षण किया। प्रखंड स्तर पर चयनित गांव सप्ता में किसान दिलीप यादव सहित अन्य लोगों के खेत पर जाकर कृषि कर्मीदल ने तकनीकी जानकारी दी।

जेडीए नईम असरफ ने किसानों के शुन्य जुताई पद्धति से नमीयुक्त भूमि में अगात गेहूं की खेती का अवलोकन कर संतोष प्रकट किया। जेडीए ने किसानों के आर्थिक विकास में जीरो टिलेज की खेती मिल का पत्थर साबित होने की बात कही। डीएओ सुधीर कुमार ने प्रखंड कृषि कर्मियों द्वारा बेहतर खेती करवाने के लिए सराहना की। डीएओ ने किसानों को बताया कि कृषि विभाग किसानों को पूर्ण अनुदानित दर प्रत्यक्षण के किट मुहैया कराने से लाभ होगा।

किसानों के खेती के बेहतरीन प्रदर्शन से गांव के अन्य लोग भी लाभान्वित होंगे। उन्होंने जीरो टीलेज खेती करने वाले किसानों को बताया कि आपके खेत में अधिक पैदावार देखकर अन्य लोग भी प्रेरित होंगे।

निरीक्षण दल में बीएओ विश्वनाथ प्रसाद, कृषि समन्वयक प्रकाश चन्द्र प्रभाकर, अनिल कुमार एवं किसान सलाहकार दिलीप चौधरी सहित अन्य लोग मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Cultivation will prove to be a milestone through the Jiro Tillage System