ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार मधुबनीजलवायु अनुकूल खेती कर पाएं बेहतर अनाज उत्पादन

जलवायु अनुकूल खेती कर पाएं बेहतर अनाज उत्पादन

मधुबनी,नगर संवाददाता। मौसम में लगातार परिवर्तन हो रहा है। इस बदलते मौसम में जलवायु...

जलवायु अनुकूल खेती कर पाएं बेहतर अनाज उत्पादन
हिन्दुस्तान टीम,मधुबनीMon, 27 May 2024 11:00 PM
ऐप पर पढ़ें

मधुबनी,नगर संवाददाता। मौसम में लगातार परिवर्तन हो रहा है। इस बदलते मौसम में जलवायु अनुकूल खेती बेहतर विकल्प है। किसान जल उपाय अनुकूल खेती कर काफी उत्पादकता को बढ़ा सकते हैं और अपनी आमदनी दुगुनी कर सकते हैं। यह बातें डीडीसी दीपेश कुमार ने खरीफ महा अभियान सह प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रामपट्टी नवोदय विद्यालय के बहुउद्देशीय सभागार में आयोजित कार्यक्रम के दौरान कही। उन्होंने किसानों से आह्वान किया कि वे लोग अधिक से अधिक मोटे अनाज का उत्पादन करें और खुद के साथ-साथ राष्ट्र को भी समृद्ध करें। कार्यक्रम का उद्घाटन अतिथियों ने दीपक प्रज्वलित कर किया। जिला कृषि पदाधिकारी ललन कुमार चौधरी ने बताया कि जिले में इसबार 1.61 लाख हेक्टेयर में धान की खेती होगी। उन्होंने कृषि विभाग की ओर से संचालित विभिन्न तरह की योजनाओं पर प्रकाश डाला। कहा कि नवीनतम तकनीक का इस्तेमाल कर बेहतर से बेहतर उत्पादन कर अपनी आर्थिक उन्नति कर सकते हैं। इसके लिए सरकार विभिन्न तरह की योजनाएं चल रही हैं जिस पर बेहतर अनुदान भी मिल रहा है। सहायक निदेशक उद्यान डॉ सुजीत कुमार उद्यान विभाग की ओर से संचालित विभिन्न योजनाओं पर विस्तार से किसानों को अवगत कराया। खासकर मखाना उत्पादन पर विशेष तौर पर किसानों को जागरूक होने के लिए कहा। वहीं सहायक निदेशक अभियंत्रण मुख्यालय अमरेंद्र कुमार ने खरीफ उत्पादन कार्यक्रम के कार्यान्वयन के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कृषि यांत्रिकीकरण की विभिन्न योजनाओं, कस्टम हायरिंग सेंटर की स्थापना सहित अन्य कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर प्रकाश डाला। वही वरीय वैज्ञानिक डॉक्टर मंगलानंद झा ने जैविक तरीके से खेती और मोटे अनाज के अधिक से अधिक उत्पादन के बारे में विस्तार से बताया। बढ़िया वैज्ञानिक डॉक्टर स्क गंगवार ने मौसम परिवर्तन को देखते हुए नवीनतम तकनीकी का उपयोग कर कैसे बेहतर उत्पादन पाया जा सकता है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।