DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  मधुबनी  ›  13 प्रवासी डेंगू मरीज मिलने से हड़कंप
मधुबनी

13 प्रवासी डेंगू मरीज मिलने से हड़कंप

हिन्दुस्तान टीम,मधुबनीPublished By: Newswrap
Wed, 16 Oct 2019 03:47 PM
13 प्रवासी डेंगू मरीज मिलने से हड़कंप

मधुबनी के अबतक 13 डेंगू प्रभावित प्रवासी मरीज मिले हैं। इन सभी मरीजों को मधुबनी के बाहर विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। ये तमाम आंकड़े स्टेट सर्विलांस यूनिट पटना की ओर से मधुबनी सर्विलांस कार्यालय को दी गई है। 13 मरीजों की सूची मिलने के बाद से स्वास्थ्य महकमा पूरी तरह से अलर्ट हो गया है। आनन-फानन में सदर अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। डेंगू किट की खरीदारी कर ली गई है। फिलहाल सदर अस्पताल में डेंगू के 60 किट उपलब्ध हैं। एसीएमओ सह जिला सर्विलांस पदाधिकारी डॉ. एसपी सिंह ने बताया कि अबतक जिले के 13 डेंगू प्रभावित मरीज मिलने की सूचना आई है। इन मरीजों की तमाम जानकारी मलेरिया विभाग को भेज दी गई है। इसमें से 27 सितंबर से पहले तक मिले डेंगू प्रभावित मरीजों के गांवों में टेमोफॉस का छिड़काव कराया जा रहा है। फाइलेरिया निरीक्षक विभाष चंद्र झा एवं अमरनाथ झा के नेतृत्व में इन प्रभावित गांवों में टेमोफॉस की दवा का छिड़काव कराया जा रहा है। निरीक्षक ने बताया कि अबतक राजनगर, हरलाखी, लौकही, लखनौर, झंझारपुर और क्योटी में दवा की छिड़काव करा ली गई है। शेष जगहों पर दवा का छिड़काव चल रहा है। डेंगू एवं चिकनगुनिया के मच्छर साफ पानी में पनपता है। ये दोनों बीमारी संक्रमित एडिस मच्छर के काटने से होती है। यह मच्छर दिन में काटता है।

ये लोग हैं डेंगू से प्रभावित मरीज

महेशपुर झंझारपुर के शालिनी कुमारी, क्योटी के पप्पू कुमार, उमगांव पिपरौन के संजय कुमार, राजनगर मझौरा के अभिषेक कुमार, गंगापुर झंझारपुर के चंदन कुमार, बासुदेवपुर लौकही के आरयू रमण, दुर्गापट्टी खुटौना के रामनाथ मंडल, बलवा मंसापुर लौकही के रौशन कुमार यादव, न्यू चकदह के आदर्श, एकडारा खजौली के सत्यम कुमार, लखनौर के हरिशंकर, बिजखाना अरेर के गुड्डू कुमार सिंह, हरसुवार हरलाखी के अनिता देवी एवं बाबूबरही महेशवारा के कृष्ण कुमार डेंगू से प्रभावित हैं। इनका सबका इलाज डीएमसीएच, एनएमसीएच और पीएमसीएच में हो रहा है।

दीपावली और छठ में परदेसियों का आना शुरू

दीपावली और छठ में परदेसियों का आने का सिलसिला शुरू हो चुका है। ऐसे में डेंगू प्रभावित मरीज भी गांव आएंगे। इसके अलावा विभिन्न शहरों से भी लोग पहुंच रहे हैं। ऐसे में अब आने वाले दिनों में डेंगू और चिकनगुनिया से प्रभावित मरीज भी पहुंचेंगे। और उनके आने से ये दोनों बीमारियों के फैलने की आशंका बढ़ जाती है। ऐसे में आने वाले दिनों में और अलर्ट रहने की जरूरत है।

स्कूल और कॉलेज में होगी जागरुकता

जिले के सभी स्कूल और कॉलेजों में डेंगू और चिकनगुनिया के बारे में जानकारी दी जाएगी। राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने डीएम को पत्र लिखकर स्कूलों में जागरुकता अभियान चलाने को कहा है। स्कूलों में इससे बचने के उपाय के बारे में बताया जाएगा। साफ-सफाई की जानकारी दी जाएगी।

संबंधित खबरें