DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय में जल्द लाइब्रेरी साइंस की होगी पढ़ाई

भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय में इस सत्र से लाइब्रेरी साइंस की पढ़ाई शुरू होने की संभावना प्रबल हो गयी है। इस संदर्भ में कुलाधिपति के साथ कुलपति की कई बैठकों में चर्चा हो चुकी है।

विश्वविद्यालय सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार कुलाधिपति ने कुछ संशोधन कर रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिया था जिसे विश्वविद्यालय प्रशासन ने पूरा कर लिया है। लाइब्रेरी साइंस की पढ़ाई शुरू होने से स्थानीय युवाओं को नया अवसर मिलेगा। लाइब्रेरी साइंस के तहत बैचलर ऑफ लाइब्रेरी एंड इंफार्मेशन साइंस (बीलिस) और मास्टर ऑफ लाइब्रेरी एंड इंफार्मेशन(एमलिस) की पढ़ाई होगी। कुलपति डॉ. अवध किशोर राय ने 17 जुलाई 2017 को हुई बैठक में लाइब्रेरी साइंस की पढ़ाई शुरू करने के लिए विश्वविद्यालय को तैयारी करने की बात कही थी। सेंट्रल लाइब्रेरी के प्रोफेसर इंचार्ज डॉ. अशोक कुमार ने विभिन्न पहलूओं पर विचार-विमर्श करने के बाद रिपोर्ट तैयार की। विश्वविद्यालय ने इसके लिए प्रस्ताव राजभवन को भेजा। विश्वविद्यालय में लाइब्रेरी साइंस के लिए सिलेबस भी तैयार कर लिया है। रेगुलेशन ऑडिनेंस पास होने के लिए राजभवन भेजा गया है। राजभवन से स्वीकृति मिलने के साथ ही कोर्स चालू करने के लिए शिक्षक और शिक्षकेत्तर कर्मचारियों की बहाली प्रक्रिया शुरू कर दी जायगी। बताया जा रहा है कि इस साल जुलाई से इस कोर्स को चालू कर दिया जाएगा। बीलिस और एमलिस कोर्स के लिए विश्वविद्यालय के खाली पड़े फिजिक्स विभाग को इसके लिए तैयार किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:University of Bhupendra Narayan Mandal will be studying soon Library Science