DA Image
21 सितम्बर, 2020|5:50|IST

अगली स्टोरी

मांगों के समर्थन में हड़ताल पर गयी सेविका-सहायिका

मांगों के समर्थन में हड़ताल पर गयी सेविका-सहायिका

विभिन्न मांगों को लेकर आंगनबाड़ी सेविका और सहायिका अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चली गयी। सेविका-सहायिका संघ की प्रखंड अध्यक्ष कुमारी प्रमिला की अगुवाई में सोमवार को सभी सेविका और सहायिका ने आईसीडीएस कार्यालय परिसर में विरोध प्रदर्शन किया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

सेविका और सहायिका ने मांगे पूरी होने तक अनिश्चितकालीन हड़ताल पर डटे रहने की बात कही है। अध्यक्ष कुमारी प्रमिला ने कहा कि बिहार राज आंगनबाड़ी संयुक्त संघर्ष समिति के आह्वान पर 31 अगस्त से सभी सेविका एवं सहायिका अनिश्चितकालीन हड़ताल पर है। सभी आंगनबाड़ी केंद्रों में तालाबंदी रहेगी। आंगनबाड़ी केंद्रों पर किसी भी प्रकार की कोई गतिविधियां नहीं होगी। सेविकाओं ने कहा कि सरकार उनलोगों से कई तरह के काम ले रही है। वे बच्चों के पालनहार के रूप में जाने जाती है। लेकिन उनलोगों के साथ नाइंसाफी की जा रही है।

सेविका और सहायिकाओं ने सरकारी कर्मी का दर्जा देने और मानदेय वृद्धि करने के साथ साथ 15 सूत्री मांगे सरकार से की है। अगर समय रहते सरकार द्वारा आंगनबाड़ी सेविका व सहायिका की मांगों को पूरा करने की दिशा में शीघ्र अग्रेतर कार्रवाई नहीं करती है तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। विरोध प्रदर्शन में अनिता कुमारी सिंह, कुमारी वंदना, संयोगिता कुमारी, कुमारी अर्पणा, रंजना कुमारी, रिंकी देवी, कल्पना देवी, सरिता देवी, बेवी कुमारी, लक्ष्मी कुमारी, पूजा, बिद्या , सबिता कुमारी सहित अन्य सेविका और सहायिका शामिल रही।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The maid-servant went on strike in support of the demands