DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › मधेपुरा › योजनाओं को धरातल पर लागू करने में नहीं रहे पीछे
मधेपुरा

योजनाओं को धरातल पर लागू करने में नहीं रहे पीछे

हिन्दुस्तान टीम,मधेपुराPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 11:20 PM
योजनाओं को धरातल पर लागू करने में नहीं रहे पीछे

मधेपुरा नगर संवाददाता

विभिन्न पंचायतों में अधिकांश नये मुखिया का चुनाव किया गया है। आम जनता ने चौंकाने वाले फैसले देते हुए पंचायत के राजनीतिक समीकरण में नये मोड़ ला दिया। सदर प्रखंड, घैलाढ़ व गम्हरिया प्रखंड क्षेत्र में पूर्व से कार्यरत व वर्तमान समय में पराजित हो चुके अधिकांश मुखिया ने समाजिक समीकरण को अपने हार के लिए जिम्मेदार माना है।

सुखासन पंचायत के पूर्व मुखिया कमलेश्वरी प्रसाद सिंह ने बताया कि चुनाव में पैसे का बहुत बड़े पैमाने पर खेल हुआ। अधिकांश जनता विकास के मुद्दे को पीछे रखकर पैसे की अहमियत ज्यादा दी। माणिकपुर पंचायत में पिछले पांच वर्षो से अपनी सेवा देने वाली पूर्व मुखिया आशा देवी ने कहा कि पंचायतों में विभिन्न जनहित के मुद्दे को धरातल पर उतारा गया। लेकिन पंचायतों में आपसी गुटबाजी ने पराजय का महत्वपूर्ण कारण बना। घैलाढ़ प्रख्ंाड अतंर्गत झिटकीया पंचायत के पूर्व मुखिया सोना देवी ने कहा कि चुनाव से पहले पंचायत में पैसे का खेल हुआ।

आम जनता ने सही व गलत लोगों के व्यक्तित्व का आकलन करने में विफल रहे। बरदाहा पंचायत के पूर्व मुखिया उमेश यादव ने कहा कि पंचायतों में विभिन्न टोले में गुटबाजी के कारण उनको संतोषजनक वोट नहीं मिल पाया।

हालांकि उन्होंने आम जनता के प्रति आभार व्यक्त किया। धुरगांव पंचायत के पूर्व मुखिया शंभू साह ने कहा कि वे आमलोगों के वृद्धा पेंशन, आवास योजना आदि का लाभ दिलाने में पीछे नहीं रहे।

संबंधित खबरें