DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  लखीसराय  ›  करंट लगने से युवक की मौत, आक्रोश में पथराव

लखीसरायकरंट लगने से युवक की मौत, आक्रोश में पथराव

हिन्दुस्तान टीम,लखीसरायPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 05:30 AM
करंट लगने से युवक की मौत, आक्रोश में पथराव

रामगढ़चौक। एक संवाददाता

रामगढ़चौक थाना क्षेत्र के नंदनामा में सोमवार की सुबह करंट लगने से एक युवक की मौत हो गई। खेत में तार गिरे होने से युवक तार के संपर्क में आ गया, जिससे उनकी मौत हो गई। घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने शव को गांव लाकर न सिर्फ घंटों धरना दिया, बल्कि खेत मालिक पर पथराव भी करने की सूचना है। काफी मशक्कत के बाद पुलिस शव को कब्जे में ले सकी और पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा।

बताया जा रहा है कि नंदनामा के उत्तरबाड़ी महादलित टोला निवासी बनारसी मांझी के 25 वर्षीय पुत्र अशोक मांझी सोमवार की सुबह शौच के लिए खेत गया था। इसी दौरान खेत में पहले से सर्विस तार गिरे होने की वजह से युवक तार के संपर्क में आ गया और किसी तरह का बचाव न हो पाने की स्थिति में मौके पर ही दम तोड़ दिया। खेत से गुजर रहे गांव के ही किसी अन्य व्यक्ति की जब युवक पर नजर पड़ी तो आसपास के लोगों को खबर की गई। घटना की जानकारी पाकर युवक के घर से परिजन व आसपास के लोग भी घटनास्थल पर पहुंचे। तबतक युवक ने दम तोड़ दिया था। आक्रोशित लोगों ने शव को वहां से उठाकर अपने ही गांव में धरना दे दिया। इस बीच पुलिस भी समझाने-बुझाने का काफी प्रयास करती रही, लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं हुए। इस बीच खेत के मालिक भी समझाने आए, तो लोगों ने पथराव को खेत मालिक को वहां से भगा दिया।

एफआईआर के बाद शव का पोस्टमार्टम

मृतक के परिजन व गांव वाले खेत मालिक के विरुद्ध लापरवाह तरीके से तार बिछाने का आरोप लगाते हुए पुलिस से कार्रवाई की मांग करते रहे। परिजनों ने खेत मालिक सच्चिदानंद सिंह के पुत्र ब्रजेश सिंह व रामबालक सिंह के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद शव को पुलिस कब्जे में ले सकी।

एक सप्ताह में तीन लोगों की मौत

लखीसराय। करंट लगने से एक सप्ताह में तीन लोगों की मौत हो चुकी है। ये तीनों घटना हलसी व रामगढ़चौक प्रखंड के बताए जा रहे हैं। जानकारी के मुताबिक एक सप्ताह पूर्व यानी 24 मई को डेकोरेशन का काम करने वाले मानपुर निवासी ब्रह्मदेव पासवान के पुत्र गोलू कुमार की मौत ट्रांसफॉर्मर पर चढ़ने के बाद करंट लगने से हो गई थी। बताया जा रहा है कि उक्त जगह पर दो ट्रांसफॉर्मर मौजूद थे। जानकारी के अभाव में गोलू गलत ट्रांसफॉर्मर पर चढ़ बैठा और हादसे में उनकी जान चली गई। घटना हलसी प्रखंड की ही बताई जा रही है। दूसरी घटना 29 मई की देर शाम की बताई जा रही है। रामगढ़चौक प्रखंड के भमरिया निवासी एक युवक खेत से गुजर रहा था। इसी दौरान खेत में बिजली तार के संपर्क में आ जाने से युवक की मौत हो गई। मृतक की पहचान भमरिया निवासी आनंदी यादव के पुत्र संजय यादव के रूप में हुई थी। वहीं तीसरी घटना सोमवार की सुबह की है।

खेत में फसलों के बीच मौत

ग्रामीण इलाकों में खेत में फसलों की जगह मौत का मंजर भी दिख रहा है। जिस तरीके से खेतों में लोग खुद से तार लगा रहे हैं, उससे हादसे होने आम बात हैं। कृषि फीडर के नाम पर लोगों को बिजली आपूर्ति करने की बात कहकर विभाग भले ही अपना पीठ थपथपा ले रही है, लेकिन सच्चाई यही है कि किसानों के खेतों तक बिजली का तार नहीं पहुंच सका है। नतीजतन लोग खुद से जैसे-तैसे तारों के सहारे अपने-अपने खेतों तक बिजली की आपूर्ति ले पा रहे हैं। ऐसे में यही तार टूटकर गिर जा रहा है और हादसे हो जा रहे हैं।

संबंधित खबरें