DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घाट ले जाने के दौरान पत्नी के मायकेवालों ने किया हंगामा

घाट ले जाने के दौरान पत्नी के मायकेवालों ने किया हंगामा

मंगलवार को रोहतक से पहुंचने वाले ससुराल वालों ने लक्ष्मीपुर गांव में पंकज महतों के द्वारा पत्नी और तीन बच्चों को फांसी दे कर मौत की नींद में सुला देने वाले तथा खुदकुशी करने वाले के जघन्य हत्या कांड पर पीएचसी मोड़ पर दाह-संस्कार के लिए गौरीशंकर में किउल नदी के किनारे श्मशान घाट ले जाने के समय हंगामा किया।

कुछ देर के लिए एनएच-80 को जाम करने पर भी वे आमादा हुए। मृतक पंकज महतो के ससुर देवेंद्र महतों और उनकी सास सीधे हरियाणा के रोहतक से मंगलवार को बुरी खबर सुन कर घबड़ाए हुए आई थी। तब तक पांचों शवों को दाह-संस्कार के लिए श्मशान घाट ले जाया जा रहा था। पीएचसी मोड़ पर लकड़िया खरीदने के लिए सभी पांचों मृतक के रिश्तेदार इन शवों को देख कर रोने लगे। गम और गुस्से का एक ही साथ नजारा देखने को मिला।

ससुर ,सास और अन्य कुछ ससुराल वाले एवं ग्रामीण पंचायत प्रतिनिधियों ,प्रशासन आदि के द्वारा कोई सहायता राशि नहीं मिलने पर सड़क जाम करने को आमादा हो गए। चंद मिनट के लिए जाम हो भी गया था, मगर परिजनों के समझाने के बाद शवों को श्मशान घाट ले गए। परिजनों ने जिप उपाध्यक्ष मनोज कुमार के ऐसे मौके पर सहानुभूति के साथ 10 हजार की सहायता राशि देने पर धन्यवाद दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Wife's maternal uncle commits a furlough while taking the pier