DA Image
24 जुलाई, 2020|12:07|IST

अगली स्टोरी

शहर के कबैया रोड में भरा पानी

default image

विकास के नाम पर लखीसराय नगर परिषद् क्षेत्र में हर वर्ष करोड़ो रुपए खर्च की जाती है, फिर भी शहर का सूरते हाल बदहाल बयां कर रहा है। जी हां! बात कर रहा हूं शहर के कबैया रोड का। ऐसे तो अन्य दिनों कबैया सड़क पर पानी का रेलमपेल रहता है, लेकिन वर्षात के दिनों में नजारा कुछ और है। शहर के कबैया रोड का सूरते हाल बदहाल है।

ड्रेनेज सिस्टम फेल हो चुका है। पानी का निकास नहीं है। घरों से निकलने वाली पानी को सीधे सड़क पर बहाया जा रहा है। सड़क इन दिनों झील में तब्दील हो चुकी है। घुटने भर गंदे पानी में प्रवेश कर लोग आवागमन करने को मजबूर हैं। इस सड़क मार्ग से नप क्षेत्र के वार्ड न. 32, 31 व 27 के लोगों को खासे परेशानी हो रही है। तकरीबन 20 हजार से अधिक की आबादी पानी के जमाव से प्रभावित हैं। एक साइड से नाला तो बना है, लेकिन पानी जमाव के कारण सड़क धंस और टूटकर बर्वाद हो चुकी है। सड़क नीचे हो चला है, तो नाला उपर हो गया है। ऐसे में पानी का निकास कतई संभव नहीं है। सड़क के दूसरी साइड से नाला का निर्माण नहीं हुआ है। सैकड़ों घरों से निकलने वाले हजारों लीटर पानी सीधे सड़क पर बहाया जा रहा है।

पानी के जमाव से सड़ांध व बदबू फैल रही है। मच्छरों का प्रकोप भी बढ़ चला है। शहर का ये दोनों वार्ड स्लम एरिया से भी बदतर हो चुकी है। स्थानीय लोगों की बातों पर गौर करें तो वर्ष 2012 से ही पानी जमाव की समस्या को झेल रहे हैं। रामानंद यादव के घर से जोड़ा मंदिर यानि करीब दो किलोमीटर तक सड़क पर पानी ही पानी है। इस सड़क मार्ग पर पैदल चलना भी मुश्किल भरा कार्य है। किराए के ऑटो, टोटो, टमटम, रिक्शा व चार पहिए वाहन भी इस सड़क मार्ग से गुजरना नहीं चाहते हैं।

नप प्रशासन का दावा है कि शहरी क्षेत्र में गुणवत्ता, पारदर्शिता व न्याय के साथ विकास की जा रही है। कबैया रोड नप प्रशासन के विकास के दावों को कलई खोलने के लिए काफी है। फिर भी शासन व प्रशासन की नजरें इस ओर इनायत नहीं हो रही है। लोगों ने नप प्रशासन के प्रति नाराजगी जाहिर की है।

इधर पूर्व मुख्य पार्षद सह वार्ड पार्षद सुषमा देवी, वार्ड पार्षद हीरा कुमार साव व शीला वर्मा ने संयुक्त रूप से बताया कि सड़क व नाला निर्माण को लेकर नप प्रशासन को लिखित रूप में देकर ध्यान आकृष्ट कराया जाएगा। बोर्ड की बैठक में भी प्रस्ताव लाकर सड़क जीर्णोद्धार का मामला उठाया जाएगा, ताकि लोगों को जल जमाव की समस्या से निजात दिलाया जा सके।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Water filled in the city 39 s Kabaiya Road