ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार लखीसराय42 डिग्री तापमान के बीच झुलस रहे लोग, मानसून का इंतजार

42 डिग्री तापमान के बीच झुलस रहे लोग, मानसून का इंतजार

42 डिग्री तापमान के बीच झुलस रहे लोग, मानसून का इंतजार

42 डिग्री तापमान के बीच झुलस रहे लोग, मानसून का इंतजार
default image
हिन्दुस्तान टीम,लखीसरायTue, 18 Jun 2024 01:15 AM
ऐप पर पढ़ें

लखीसराय, एक प्रतिनिधि।
जिले में गर्मी से अभी तीन दिनों तक लोगों को राहत मिलने का अनुमान नहीं है। जिले का तापमान लगातार पिछले कई दिनों से 42 डिग्री सेंटीग्रेड के पार दर्ज किया जा रहा है। सोमवार को जिले का अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेंटीग्रेड तापमान दर्ज किया गया। दूसरी ओर न्यूनतम तापमान भी लगातार 30 डिग्री सेंटीग्रेड के आसपास बना हुआ है। जिससे लोगों को पूरे दिन गर्मी का सामना करने के बाद रात में भी राहत नहीं मिल रही है। दोपहर में हल्के बादल के बीच भी हवा नही चलने के कारण लोगो को अकुलाहट भीरी गर्मी परेशान किए हुए था। इस भीषण गर्मी में जिले के विभिन्न इलाकों में जल संकट गहराने लगा हैं। विभिन्न अस्पतालों में गर्मी और लू लगने से बीमार लोगो की संख्या लगातार बढ़ रही है। भीषण गर्मी और लगातर चलने वाले लू के कारण जिले का जनजीवन पूरी तरह अस्त-व्यस्त बना हुआ है। दोपहर के समय नगर क्षेत्र के सड़कों पर पूरी तरह विरानी देखी गई। ग्रामीण क्षेत्र में लोग समूह बनाकर सामुदायिक भवन या वृक्ष के नीचे दोपहर बिता रहे हैं। शहर में लोग पानी के लिए तरस रहे है। क्या गरीब क्या अमीर सभी को गला में ठंड पानी ही नीचे उतर रहा है जिस कारण लोग बोतल बंद पानी खरीद कर पीते है। नगर परिषद के द्वारा लगाए गए पानी का टंकी सुबह में ही पानी पीने लायक नही रह जाता है। इस बीच मौसम विभाग द्वारा लोगों को गर्मी के मद्देनजर लगातार सावधान रहने की हिदायत दी जा रही है। 72 घंटे में गर्मी से किसी प्रकार की राहत मिलने की संभावना नहीं है। मौसम विभाग व जिला प्रशासन के द्वारा लोगों को दोपहर के समय घर से बाहर नहीं निकलने और आवश्यक कार्य से बाहर निकलने पर भरपेट पानी पीकर साथ में टोपी छाता जूता आदि लेकर निकलने को कहा जा रहा है।

19 तक शैक्षणिक कार्य स्थगित

जिले में भीषण गर्मी एवं तापतान को देखते हुए सभी सरकारी एवं निजी शिक्षण संस्थानों में 19 जून तक शैक्षणिक कार्यों पर रोक लगा दी गई है। डीएम रजनीकांत के द्वारा शैक्षणिक कार्यों पर रोक लगाए जाने को लेकर धारा 144 लागू किया गया है। धारा 144 लागू होने के कारण सभी सरकारी एवं निजी विद्यालयों के साथ ही आंगनबाड़ी केन्द्रों तथा कोचिंग संस्थानों में भी शैक्षणिक कार्य बंद रहेगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।