DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › लखीसराय › यू-डायस प्लस पोर्टल पर ऑनलाइन होगी डेटा इंट्री
लखीसराय

यू-डायस प्लस पोर्टल पर ऑनलाइन होगी डेटा इंट्री

हिन्दुस्तान टीम,लखीसरायPublished By: Newswrap
Mon, 31 May 2021 04:31 AM
यू-डायस प्लस पोर्टल पर ऑनलाइन होगी डेटा इंट्री

लखीसराय। हिन्दुस्तान संवाददाता

जिला अंतर्गत सरकारी एवं निजी विद्यालयों का सभी डेटा का ऑनलाइन रिकॉर्ड रखा जाएगा। बिहार सरकार के द्वारा विद्यालयों के डेटा इंट्री के लिए पोर्टल भी उपलब्ध कराया गया है। शिक्षा विभाग के समग्र शिक्षा अभियान के द्वारा विद्यालयों के डेटा अपडेशन कार्य का मोनिटरिंग किया जा रहा है। विद्यालयों को डायस कोड, मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी के आधार पर ऑनलाइन इंट्री के लिए यूजर आईडी और पासवर्ड दिया जा रहा है। ऑनलाइन इंट्री में विद्यालय प्रधान को विद्यालयों को उपलब्ध भवन, इंफ्रास्ट्रक्चर, शिक्षकों की संख्या, एडुकेशनल गुणवत्ता, विद्यालयों से लाभुक आधारित योजना का मिल रहे लाभ, आधार अपडेटेड विद्यार्थियों की संख्या, वर्ग कक्ष की संख्या, कोटिवार विद्यार्थियों की संख्या सहित अन्य सूचनाएं इंट्री करना अनिवार्य है। विद्यालयों द्वारा इंट्री किए जाने वाले डेटा के आधार पर ही राज्य सरकार शिक्षक छात्र अनुपात में शिक्षकों की उपलब्धता, आवश्यक शिक्षकों की संख्या एवं गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का निर्धारण करती है। शिक्षा विभाग के द्वारा हरेक साल विद्यालयों से ऐसी जानकारी ली जाती है। विद्यालयों को हरेक साल पूर्व से उपलब्ध कराए गए डेटा को अपडेट करने का कार्य करना होता है। पहले मैन्युअली फार्मेट पर डेटा लिया जाता था लेकिन इस बार आॅन लाइन डेटा इंट्री कराने के बाद फार्मेट में मैन्युअली जमा करना होगा।

शिक्षा विभाग ने बनाया है व्हाट्सएप्प ग्रुप

यू डायस प्लस पोर्टल पर डेटा इंट्री करने, तकनीकी सहायता उपलब्ध कराने एवं यूजर आईडी एवं पासवर्ड उपलब्ध कराने को लेकर समग्र शिक्षा अभियान कार्यालय लखीसराय द्वारा व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाया गया है। व्हाट्सएप्प ग्रुप में प्रखंड के सभी शिक्षकों को जोड़ा गया है ताकि डेटा इंट्री के दौरान होने वाले समस्या का समाधान किया जाए। लेकिन लॉकडाउन के दौरान प्रखंड से लेकर जिला तक के कार्यालय बंद रहने एवं तकनीकी टीम के सदस्य द्वारा हर समय उपलब्ध नहीं रहने के कारण यू डायस प्लस पोर्टल पर डेटा इंट्री कार्य धीमा है। कई विद्यालयों के प्रधान अब तक डेटा इंट्री कार्य में रूचि नही ले रहे है। ऐसे प्रधान प्रखंड स्तरीय डेटा ऑपरेटर पर निर्भर है। वहीं डेटा इंट्री के दौरान होने वाली समस्या का समाधान भी त्वरित नहीं किया जाता है और संपर्क करने पर उसे टालने के मकसद से किसी और से संपर्क करने की सलाह दी जाती है।

डेटा इंट्री में परेशान हो रहे विद्यालय प्रधान

यू डायस प्लस पोर्टल पर डेटा इंट्री कराने के चक्कर में कई विद्यालय प्रधान परेशान हो रहे है। उन्हें समय से डेटा इंट्री नहीं होने का डर भी सता रहा है। लॉकडाउन के समय में कई साइबर कैफे के बंद रहने से भी परेशानी बढ़ी है। उपर से लॉकडाउन के कारण प्रखंड शिक्षा कार्यालय के बंद रहने से भी परेशानी हो रही है। प्रखंड कार्यालय खुला रहने पर वहां कार्यरत डेटा ऑपरेटर के द्वारा यू डायस प्लस पोर्टल पर कई विद्यालयों के डेटा की इंट्री कर समस्या का समाधान करते लेकिन ऐसा नहीं हो पा रहा है। डेटस इंट्री होने से कई विद्यालय प्रधान परेशान है और उन्हें विभाग द्वारा बनाए गए व्हाट्सएप्प ग्रुप से भी समस्या समाधान को लेकर सही नहीं मिल रहा है।

संबंधित खबरें