DA Image
22 अक्तूबर, 2020|6:11|IST

अगली स्टोरी

जमीन की हेराफेरी में होगा केस

default image

निबंधन कार्यालय में किसी तरह का कोई भ्रष्टाचार नहीं है कुछ असामाजिक तत्वों के द्वारा गलत तरीके से प्रचार प्रसार कर दिग्भ्रमित किया जा रहा है। उक्त बातों की जानकारी बुधवार को जिला अवर निबंधक सीमा कुमारी ने अपने कार्यालय कक्ष में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी। उन्होंने कहा कि कुछ लोग दबाव बनाने के नियत से इस तरह का हथकंडा बनाने का प्रयास कर रहे हैं। किसी के दबाव में निबंधन कार्यालय काम नहीं करेगा।

जिला अवर निबंधक सीमा कुमारी ने कहा कि मेरे आने के बाद प्रति केवाल 14 हजार रुपये की बढ़ोतरी कर सरकार के खाते में जमा हो रहा है। पहले 25 हजार रुपये था अब 39 हजार है। ऐसे में कुछ लोग गलत मंशा से विभाग को बदनाम करने में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि जल्द ही इस मामले की जांच कार्रवाई जायेगी और ऐसे लोगों के खिलाफ जरूरत पड़ने पर एफआईआर दर्ज कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि विभाग में किसी तरह का कोई भ्रष्टाचार नहीं है।

भष्टाचार को अंकुश लगाने के उद्देश्य से कार्यालय में अहम निर्देश दिये गये हैं । उन्होंने कहा कि बीते दिनों एक अखबार व वाटशप ग्रुप में गलत तरीके पोस्ट किया गया था। जो बिल्कुल ही बेबुनियाद है। उन्होंने कहा कि निबंधन कार्यालय में नये नियमों के तहत अब जमीन खरीद बिक्री के मामले में स्पष्ट निर्देश दिया गया है कि जमीन बेचने व खरीदने वाले दोनों का फोटो व जमीन के अगल-बगल रहने वाले लोगों के सामने ही जमीन का जांच होगा। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों के द्वारा गलत जमीन दिखाकर निबंधन कराया गया। वैसे लोगों के खिलाफ जांच कर कार्रवाई की जाएगी और जरूरत पड़ने पर एफआईआर दर्ज कराया जायेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:There will be a case in misappropriation of land