DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पोठिया-बेलवा सड़क पर जुगाड़ वाहन से सफर करते हैं लोग

पोठिया-बेलवा सड़क पर जुगाड़ वाहन से सफर करते हैं लोग

जिले के पोठिया प्रखंड के लोग आज भी जिला मुख्यालय या प्रखंड मुख्यालय पहुंचने के लिए बंगाल के रास्ते बंगाल के यात्री वाहन से सफर करने पर विवश हैं।

जिला मुख्यालय से बेलवा, दामलबाड़ी होते हुए पोठिया प्रखंड मुख्यालय को जोड़ने वाली सड़क पर यात्री वाहनों का परिचालन आजादी के सात दशक बाद भी शुरू नहीं हो सका है। इस कारण पोठिया प्रखंड क्षेत्र के परलाबाड़ी, दामलबाड़ी, जहांगीरपुर, पहाड़कट्टा, पनासी, शीतलपुर, कोल्था, उदगाड़ा आदि पंचायत के लोग जान जोखिम में डालकर जुगाड़ गाड़ी या बंगाल के रास्ते होकर बस आदि परिवहन से सफर कर जिला मुख्यालय या प्रखंड मुख्यालय पहुंचते हैं।

इस क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों एवं ग्रामीणों का कहना है कि जिला व प्रखंड मुख्यालय को जोड़ने के लिए बेलवा से पोठिया होते हुए रामगंज (बंगाल) तक करीब 44 किलोमीटर लंबी सड़क तो बनी है जो प्रखंड क्षेत्र के बीचोबीच विभिन्न पंचायतों को सीधे प्रखंड मुख्यालय से जोड़ती है। इस सड़क पर यात्री वाहन नहीं चलने से आम लोगों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। परिवहन विभाग पहल करे तो शुरू हो सकता है वाहनों का परिचालन: प्रखंड क्षेत्र के विभन्न पंचायत के लोगों की मांग है कि बेलवा-रामगंज (बंगाल सीमा) वाया पोठिया-दामलबाड़ी रूट पर परिवहन विभाग पहल कर वाहन मालिकों को प्रेरित कर परमिट की पहल करे तो यात्री वाहन का परिचालन शुरू हो सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Pothia-Belwa travels from Jugaad vehicle on the road