DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  पिछले 10 दिन में मिले सिर्फ 14 कोरोना के नये मामले

कोसीपिछले 10 दिन में मिले सिर्फ 14 कोरोना के नये मामले

हिन्दुस्तान टीम,कोसीPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 05:20 AM
पिछले 10 दिन में मिले सिर्फ 14 कोरोना के नये मामले

दिघलबैंक । निज संवाददाता

पिछले 10 दिनों से जिला सहित दिघलबैंक प्रखंड मे कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में तेजी के साथ गिरावट दर्ज कि गई है। विशेषकर दिघलबैंक प्रखंड में तो पॉजिटिव केसों की संख्या में बहुत ही कमी आई है। प्रखंडन्तर्गत पिछले 10 दिनों में केवल 14 पॉजिटिव केस ही मिले हैं। जबकि इससे पहले 5 मई से 20 मई तक मात्र 15 दिनों में ही करीब 120 पॉजिटिव केस मिले थे। प्रखंड में बढ़ते आंकड़ों से लोग काफी परेशान एवं डरे हुए थे,लेकिन पिछले दस दिनों से पॉजिटिव मरीजों की संख्या में लगातार आये गिरावट से प्रखंड के लोगों ने राहत कि सांस ली है और प्रखंड में एक बार फिर से स्वास्थ्य को लेकर विश्वास का एक माहौल बना है।

दिघलबैंक स्वास्थ्य प्रबंधक संजय घोष से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार दिघलबैंक प्रखंड में मई माह में मिले कुल 150 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं,जबकि इस दौरान स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा 30 दिनों में 3818 रेपिड एंटिजन टेस्ट तो 3798 आरटीपीसीआर टेस्ट करवाये गये। साथ ही आंकड़ों के अनुसार पिछले सप्ताह के 22, 26, 27 एवं 29 मई को प्रखंड में एक भी पॉजिटिव केस नहीं मिला है,जो सुखद संदेश देता है। वहीं प्रखंड में केसों के संख्या में आये कमी को लेकर जब प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डाक्टर टी.एन.रजक ने बताया कि इसका पूरा श्रेय स्थानीय प्रशासन द्वारा लाकडाउन के पालन को लेकर किये जा रहे प्रयासों और स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा लगातार चलाये जा रहे ट्रेकिंग, टेस्टिंग और टीकाकरण को दिया है।

श्री रजक के अनुसार स्वास्थ्य विभाग द्वारा पॉजिटिव केस का कांटेक्ट ट्रेकिंग और सीएचसी सहित विभिन्न चौक चौराहों और सामुदायिक स्थानों पर किये गये टेस्टिंग से जहां कोरोना के प्रसार को रोकने में मदद मिली। वहीं टीकाकरण अभियान द्वारा अधिक से अधिक संख्या में लोगों को सुरक्षित करने का संकल्प भी कोरोना केसों को कम करने में सहयोगी साबित हुआ है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के कर्मी ,आशा दीदी,आंगनबाड़ी व सोशल मीडिया के द्वारा युवाओं द्वारा लगातार चलाये गये जागरूकता अभियान से भी लोगों में जागरूकता का प्रसार हुआ और अधिकतर लोगों ने इस कठिन समय में जिस प्रकार के संयम का परिचय दिया उससे भी प्रखंड क्षेत्र में कोरोना पर काबू पाने में सफलता मिली है।

संबंधित खबरें