DA Image
21 अक्तूबर, 2020|6:26|IST

अगली स्टोरी

किशनगंज में महानंदा व डोक नदी कर रही है कटाव

किशनगंज में महानंदा व डोक नदी कर रही है कटाव

किशनगंज प्रखंड क्षेत्र में कटाव बड़ी समस्या बनी हुई है। महानंदा व डोक नदी के कटाव का कहर से सैकड़ो एकड़ कृषि योग्य भूमि नदी के गर्भ में समा चुका है। जिस कारण कई किसान भूमिहीन होकर आर्थिक तंगी से गुजर रहे हैं। तथा कई गांव कटाव के चपेट में आ चुका है। प्राप्त जानकारी अनुसार किशनगंज प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत हालामाला व बेलवा पंचायत में महानंदा व डोक नदी , मोतिहारा तालुका पंचायत में डोक नदी, दौला पंचायत में महानंदा नदी के कटाव से ग्रामीण चिंतित हैं। हालामाला पंचायत के मुखिया इसहाक आलम,वर्ड सदरम सब्बीर आलम ने बताया कि डोक नदी का कटाव ओद्रा गांव के निकट पहुंच चुका है । ओद्रा पूरब टोला खतरे के जद में है।

नदी कटाव गांव से महज करीब 20 से 25 फिट की दूरी रह गया है। इसके अलावा बालुबाड़ी ,अंदवाकोल व ताराबाड़ी गांव को महानंदा नदी के कटाव से खतरा है। पंचायत में दोनो नदी कटाव में दर्जनों एकड़ भूमि योग्य भूमि नदी में विलीन हो चुका है।बेलवा पंचायत के मुखिया फ़खरे अलम ने बताया कि बेलवा पंचायत के बेलवा व टेंगरमारी गांव डोक नदी के कटाव के जद में है तो बहिराकोल व कमारमनी गांव महानंदा नदी के कटाव के साये में है।

दौला पंचायत के मुखिया तसनीम अहमद ने बताया कि दौला पंचायत में पंचायत में बलियाडांगा, मंझोक,बलिया, फ़ुलवारी व लालबड़ी गांव महानंदा नदी के कटाव के जद में है। बलियाडांगा, मंझोक गांव में कटाव विकराल रूप ले रखा है। नदी कटाव से दर्जनों परिवार कटाव से प्रभावित हुए हैं। इसके अलावा दर्जनों एकड़ कृषि योग्य भूमि नदी के गर्भ में समा जाने के कई परिवार भूमिहीन हो चुका है। कटाव से प्रभावित व भूमिहीन परिवार में आर्थिक तंगी की समस्या बनी हुई है।

मोतिहारा तालुका पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि अब्दुर रहमान ने बताया कि पंचायत के अमलझाड़ी, बैरबाना व बाभनडुबा गांव डोक नदी के कटाव से खतरे के साये में है तथा नदी के कटाव से कई किसान भूमिहीन हो चुका है। नदी कटाव से ग्रस्त परिवार, ग्रामीण एवं पंचायत जनप्रतिनिधियों ने नदी कटाव को रोकने के लिए कटाव रोधी कार्य करवाने की मांग कर रहे हैं। लोगों ने कहा कि नदी कटाव को समय रहते नहीं रोका गया तो कई गांव व भूमि योग्य भूमि कटाव के जद में आ जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Mahananda and Dok river are eroding in Kishanganj