DA Image
23 जनवरी, 2021|5:34|IST

अगली स्टोरी

टेढ़ागाछ में नदियों के जलस्तर में वृद्धि से जनजीवन अस्तव्यस्त

default image

क्षेत्र में तीन दिनों से हो रही बारिस एवं नेपाल के जल अधिग्रहण क्षेत्र से छोड़े गए पानी से प्रखण्ड क्षेत्र के नदियों का जलस्तर में लगातार वृद्धि हो रही है। रेतुआ व कनकई नदियों के जल स्तर में वृद्धि होने से टेढ़ागाछ के कई गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया। निचले भूभाग में नदियों का पानी भर गया है। जिससे आसपास के जन जीवन अस्त व्यस्त हो गए हैं। यहां बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। झुनकी मुशहरा पंचायत के हाथीलदा गांव में बाढ़ व कटाव का कहर जारी है।

रेतुआ नदी के कटाव की चपेट में आने से हाथीलदा गाँव के कई लोग अपना घर तोड़कर हटाने लगे हैं। धवेली पंचायत के दर्जन टोला में रेतुआ नदी का पानी घुस गया है। इधर हवाकोल,चिल्हानियाँ, कालपीर, मटियारी, डाकपोखर, धवेली, भोरहा, बैगना पंचायतों के दर्जनों गाँव में अभी बाढ़ की स्थिति बनी हुई है। नदियों के जलस्तर बढ़ने के करण कई जगह मुख्य सड़क कटने के कगार पर है। रेतुआ नदी के उफान से धपर टोला, ठौआपाड़ा, खुरखुडिया, चिल्हनियाँ, कोठी टोला, देवरी, सुहिया हाट टोला सहित दर्जनों गाँव में बाढ़ का पानी घुस गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Increased water level in rivers disturbed life in Teredhagachh