DA Image
16 जनवरी, 2021|8:39|IST

अगली स्टोरी

नम आंखों से दी मां दुर्गा को विदाई, महिलाओं ने खेली रंगोली

नम आंखों से दी मां दुर्गा को विदाई, महिलाओं  ने खेली रंगोली

शारदीय नवरात्र का त्योहार सोमवार को कलश एवं प्रतिमा विसर्जन के साथ शांतिपूर्वक संपन्न हो गया। प्रतिमा विसर्जन से पहले मां दुर्गा की पूजा-अर्चना एवं आरती हुई। इस दौरान मां दुर्गा के भक्तों ने मां को नम आंखों से विदाई दी। मां दुर्गा को विदाई देते वक्त श्रद्धालुओं ने मां से क्षमा मांग प्रार्थना की। मां से भक्तों ने सुख,समृद्धि, शांति के अलावे कोरोना संक्रमण के प्रभाव को खत्म कर सभी प्राणियों को स्वस्थ रखने की कामना की।

इस दौरान महिलाओं ने एक दूसरे को सिन्दूर लगाया। शहर के सभी प्रमुख मंदिरों एवं पूजा पंडाल में स्थापित प्रतिमा का विसर्जन दिन के दो बजे से प्रारंभ हो चुका था और यह सिलसिला देर शाम तक जारी रहा। विसर्जन भक्तिभाव एवं जय माता दी के जयकारे के बीच हुआ। घरों में स्थापित कलश का विसर्जन किया गया। शहर के विभिन्न चौक-चौराहों से गुजरते हुए शहर के डे मार्केट एवं खगड़ा देवघाट में प्रतिमा का विसर्जन किया गया। इसके पहले अष्टमी एवं नवमी को कन्या पूजन कर छोटी कन्या को भोजन कराया गया और उनसे आशीर्वाद ली गई।

शहर में नौ दिनों तक मां दुर्गा की पूजा-अर्चना एवं आराधना से माहौल भक्तिमय बना रहा। नवमी को शहर के लोग पूजा देखने के लिए जुटे रहे। सभी पूजा पंडाल के समक्ष मेला सा नजारा दिखा। नवमी को वैदिक मन्त्रोच्चार के साथ हवन किया गया। शहर के प्रसिद्ध एवं प्राचीन बड़ी कोठी दुर्गा मंदिर, शिवशक्ती धाम दुर्गा मंदिर लोहारपट्टी, मनोरंजन क्लब दुर्गा पूजा स्थल, रमजान पुल शिव मंदिर स्थित पूजा पंडाल, मोतिबाग काली मंदिर, ढेकसरा काली मंदिर स्थित दुर्गा मंदिर, टेउसा कैलाश चौक दुर्गा मंदिर, फरिंगगोला दुर्गा मंदिर, तेघरिय दुर्गा पूजा पंडाल, तांती बस्ती दुर्गा मंदिर, कसेरापट्टी रोड स्थित दुर्गा मंदिर, नेपालगढ़ कालोनी दुर्गा मंदिर, माधवनगर दुर्गा मंदिर, शीतला मंदिर अस्पताल रोड दुर्गा पूजा पंडाल, डे मार्केट दुर्गा मंदिर, झूलन मंदिर दुर्गा पूजा पंडाल, मिलनपल्ली दुर्गा मंदिर, रूईधासा दुर्गा पूजा पंडाल, प्रेमपुल स्थित दुर्गा मंदिर, हलीम चौक के निकट दुर्गा मंदिर, कालु चौक दुर्गा पूजा पंडाल, खगड़ा देवघाट स्थित दुर्गा मंदिर, रेलवे कालोनी दुर्गा मंदिर, रोलबाग दुर्गा पूजा पंडाल, डुमरिया दुर्गा मंदिर, डुमरिया भट्टा दुर्गा पूजा पंडाल, धरमगंज दुर्गा पुजा पंडाल, दिलवारगंज दुर्गा मंदिर, उत्तरपाली दुर्गा मंदिर परिसर में स्थापित प्रतिमा सहित कई मंदिरों में स्थापित प्रतिमा का विसर्जन हुआ। जबकि शहर के पश्चिमपाली दुर्गा मंदिर, भगवती गोला धर्मशाला रोड भगवती मंदिर, रेल गुमटी धरमगंज स्थित श्री विष्णु राधा कृष्ण हनुमान मंदिर में माँ दुर्गा की स्थाई प्रतिमा स्थापित है, यहां कलश का विसर्जन हुआ।

वहीं शहर के रूईधासा स्थित महाकाल मंदिर में भी माँ की पूजा की गई। टेढ़ागाछ प्रखण्ड क्षेत्र में हर्षोल्लास के साथ सोमवार को दुर्गा पूजा सम्पन्न हो गया। विजयादशमी के सम्पन्न होने के साथ ही सभी स्थानों व पूजा पंडालों से मां दुर्गा की प्रतिमा विसर्जित की गई। प्रतिमा विसर्जन के दौरान सुहिया दुर्गा मंदिर से रेतुआ नदी के किनारे तक श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। विसर्जन के दौरान स्थानीय पुलिस व संचालकों की निगरानी देखी गई। इससे पूर्व मटियारी,फुलबड़िया, सुहिया,पैकटोला, शिशागाछी, बीबीगंज आदि दर्जनों दुर्गा मंदिर व पूजा पंडालों में स्थापित मां दुर्गा की पूजा-अर्चना में श्रद्धालुओं व आयोजकों ने काफी सहयोग किया। विजयादशमी के अवसर पर इन स्थानों पर श्रद्धालुओं ने मां दुर्गा की प्रतिमाओं का दर्शन किया। पूजा स्थलों में श्रद्धालुओं की भीड़ देखी गयी। कोविड 19 को लेकर लोग सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन कर रहे थे। सुहिया में मूर्ति विसर्जन के दौरान सिकन्दर साह, विनोद यादव,संजय साह, भोला साह, विरेन्द्र यादव,जगदीश साह, बरुण साह, उमेश साह, रामजी साह, विजय साह, पंचलाल साह, मिथुन साह,बालेश्वर आदि शामिल थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Farewell to mother Durga with moist eyes women played rangoli