DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संभावित बाढ़ को लेकर प्रशासन ने किया अलर्ट

संभावित बाढ़ के मद्देनजर जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है। डीएम महेन्द्र कुमार ने कहा कि महानंदा नदी के जल स्तर में वृद्धि के कारण ऐहतियान लोगों को सतर्कता बरते जाने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि निचले इलाके के लोगों को विशेष रूप से सतर्कता बरते जाने का निर्देश दिया गया है।

इसके लिए संबंधित प्रखंड के बीडीओ, सीओ व कर्मियों को निर्देश दिया गया है कि नीचले स्थानों के लोगों को सुरक्षित स्थानो में पहुंचाये। सोमवार की सुबह महानंदा बैरेज फुलवारी सिलीगुड़ी से 45 हजार क्यूसेक पानी छोड़े जाने के कारण महानंदा नदी के जलस्तर में वृद्धि हुई थी। फिलहाल नदी खतरे के निशान से बाहर है। जिला प्रशासन ने वरीय अधिकारियों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का मुआयना करने का निर्देश दिया है।

डीएम के निर्देश पर एडीएम रामजी साह ने सोमवार की देर शाम महानंदा नदी के तट पर बने बांध का निरीक्षण किया। ठाकुरगंज, कोचाधामन, पोठिया व किशनगंज प्रखंड में विशेष सतर्कता बरती जा रही है। ठाकुरगंज में डीपीआरओ राघवेन्द्र कुमार दीपक, पोठिया में डीपीआरओ सत्यनारायण मंडल, कोचाधामन में डीसीएलआर संजीव कुमार, किशनगंज प्रखंड के लिए आपदा प्रबंधन पदाधिकारी राजेश गुप्ता की प्रतिनियुक्ति की गई है। इसके लिए पंचायत सचिव, पंचायत रोजगार सेवक, राजस्व कर्मचारी को पल-पल की सूचना देने का निर्देश दिया गया है। संबंधित कर्मी पल पल की सूचना अपने प्रखंड मुख्यालय में देंगे। सूचना संबंधित प्रखंड के बीडीओ व सीओ वरीय अधिकारियों को देंगे। संभावित बाढ़ को ले प्रभावित क्षेत्रों में गोताखोरों को लगाया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Administration warns about possible floods