DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  नकली सीमेंट बरामदगी मामले में अब तक कार्रवाई सिफर
कोसी

नकली सीमेंट बरामदगी मामले में अब तक कार्रवाई सिफर

हिन्दुस्तान टीम,कोसीPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:31 AM
नकली सीमेंट बरामदगी मामले में अब तक कार्रवाई सिफर

किशनगंज। संवाददाता

एक सप्ताह पूर्व सदर थाना क्षेत्र के समदा गांव में सीमेंट बरामदगी मामले में बड़ी कार्रवाई को लेकर पुलिस की ओर से रणनीति बनायी जा रही है। हालांकि अब तक कार्रवाई की गति शिथिल है। समदा गांव में ट्रक में लदे भारी मात्रा में जब्त किए गए सीमेंट के नकली होने की आशंका पुलिस ने जतायी थी। नकली सीमेंट के उदभेदन को लेकर जांच और कार्रवाई के लिए एसपी ने सक्षम प्राधिकार को पत्र लिखा है। मामले में आवश्यक कार्रवाई की बात कही गई है। सीमेंट के नकली होने की आशंका पर पुलिस अब पूरे रैकेट का पर्दाफाश करने में जुट गई है। हालांकि पुलिस मामले में अपने स्तर से जांच भी कर रही है। पुलिस को कुछ ऐसे सुराग भी मिले हैं जिससे पुलिस नकली सीमेंट बनाने वाले गिरोह के गर्दन तक पहुंचने की तैयारी में जुट गई है। इस खेल में कई ऐसे लोग शामिल है जो पुलिस की आंखों में धूल झोंककर आसानी से नकली सीमेंट का कारोबार कर रहे है। एक सप्ताह पूर्व एसपी कुमार आशीष को नकली सीमेंट के निर्माण की सूचना मिली थी। एसपी ने तुरंत ही प्रशिक्षु डीएसपी मुकेश कुमार ठाकुर के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया। टीम समदा गांव पहुंची। गांव में समदा चौक के पास सीमेंट से लदी 12 चक्का ट्रक खड़ी मिली। ट्रक आरोपी कही ले जाये जाने की फिराक में थे या फिर सीमेंट को किसी गोदाम में ले जाया जाना था। पुलिस सीमेंट लदी ट्रक को जब्त कर थाना ले आयी। एसपी कुमार आशीष ने कहा कि सीमेंट मामले में जांच के लिए सक्षम प्राधिकार को लिखा गया है। जो भी इस खेल में शामिल है उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

पूर्व से ही नकली सीमेंट निर्माण की आशंका

समदा गांव के पास वर्षों से नकली सीमेंट के अवैध निर्माण का गोरखधंधा चल रहा था। लेकिन कारोबारी इतने शातिर हैं कि पुलिस को भी इसकी भनक नहीं लगने दी जा रही थी। जिले को अपराध मुक्त बनाने की दिशा में लगातार सक्रिय एसपी कुमार आशीष की सक्रियता से सीमेंट मामले में कार्रवाई की जा सकी है। पुलिस मामले को गंभीरता से लेगी तो एक बड़े रैकेट का पर्दाफाश हो सकता है। हालांकि इस मामले में गहराई से पड़ताल के बाद ही स्थिति पूरी तरह से स्पष्ट हो सकेगी। जानकारी के अनुसार इस खेल में कई सफेदपोश बिचौलिए भी सक्रिय हैं। वहीं गिरोह के तार बंगाल से जुड़े होने की आशंका भी जतायी जा रही है। जो सीमेंट ज़ब्त हुए हंै उसकी बोरियों में किसी भी कम्पनी का मार्का नहीं लगा हुआ है। जिससे सीमेंट के नकली होने की आशंका जतायी गई है।

संबंधित खबरें