DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुआवजे को लेकर सड़क जाम

मुआवजे को लेकर सड़क जाम

सिक्यूरिटी गार्ड रामविलास यादव का शव शुक्रवार को मुम्बई से सरैया गांव पहुंचते ही परिजनों ने हत्या का आरोप लगाते हुए एनएच 107 को जाम कर दिया। परिजन व ग्रामीण मुआवजे की मांग पर अड़े थे।

बताया गया मुम्बई में सिक्युरिटी गार्ड के पद पर काम कर रहे चौथम थाना क्षेत्र के सरैया निवासी 55 वर्षीय रामविलास यादव की गत 15 अक्टूबर की रात संदेहास्पद स्थिति में मौत हो गई। शुक्रवार को रामविलास का शव जैसे ही गांव पहुंचा तो वहां कोहराम मच गया। आक्रोशित ग्रामीणों व परिजनों ने शव को लकरे एनएच 107 को सरैया गांव के समीप जाम कर दिया। हत्या का आरोप लगाते हुए ग्रामीण व परिजन मुआवजे की मांग पर अड़े थे। जाम के कारण सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

सूचना पर पहुंचे चौथम थानाध्यक्ष गुंजन कुमार के समझाने पर एक घंटे बाद जाम तोड़ा गया। मृतक के पुत्र विद्यानंद यादव ने बताया कि उसके पिता की मुम्बई में बिहारी के आरोप में गैर इरादतन हत्या की गई है। ड्यूटी पर जाने के बाद 15 अक्टूबर की रात उससे बात हुई थी। आरोप लगाया कि ड्यूटी पर रहते उसके पिता को बिहारी कहकर हत्या की गई है। इसकी जांच होनी चाहिए। घटना के संबंध में बताया जा रहा कि रामविलास मुम्बई में सुपर प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी में सिक्युरिटी गार्ड था। गत 15 अक्टूबर की रात वे ड्यूटी के लिए निकले थे।

रामविलास के शव को लेकर सरैया गांव पहुंचे कंपनी के एक अन्य सिक्युरिटी गार्ड मिथलेश सिंह ने बताया कि रामविलास की ड्यूटी नाइट शिफ्ट में थी। लेकिन वह ड्यूटी पर नहीं आया था। 16 अक्टूबर को सूचना मिली कि वर्दी में एक गार्ड का शव सड़क के किनारे है। इसके बाद कम्पनी के लोग जाकर शव की पहचानकर पुलिस को सूचना दी। परिजनों का आरोप है कि रामविलास की हत्या की गई है। इधर थानाध्यक्ष ने मृतक के बेटे से कहा कि आवेदन के आलोक में कार्रवाई की जाएगी। लेबर कोर्ट में आवेदन देकर वहां से मुआवजा मिलने की बात कही। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। इधर जाम की सूचना पर राजद प्रखंड अध्यक्ष रंजीत रमण, प्रखंड महासचिव विजय पोद्दार, नीरज कुमार मालाकार, अविनाश कुमार पासवान, मोहम्मद इकबाल,अमरजीत पासवान आदि भी पहुंचकर मामले की जानकारी लेकर उचित मुवावजे की मांग की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Road jams on compensation