DA Image
22 फरवरी, 2020|9:20|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिले में महज 26 जांच घर ही पाए गए हैं वैध

default image

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले में चल रहे जांच घरों की सूची जारी की गई है। इस सूची को वेबसाइट पर अपलोड भी की गई है। उच्च न्यायालय ने कुछ दिन पहले सख्त निर्देश दिया था कि बिना मानक के संचालित हो रहे जांच घर, पैथोलॉजी अथवा डायग्नोस्टिक सेन्टर को बंद किया जाय।

इस निर्देश पर पीएचसी प्रभारी से जांच कराया गया था। इसमें से 26 जांच घरों को वैध घोषित किया गया है। वहीं 12 जांच घरों को अवैध घेषित कराते हुए बंद करा दिया गया है। इधर सीएस डॉ. डीके निर्मल ने बताया कि नियम के विपरीत लैब का संचालन बर्दाश्त नहीं होगी।

इन जांच घरों को पाया गया वैध: विभाग से मिली जानकारी के अनुसार परबत्ता के लक्ष्मी जांच घर, अभिषेक जांच घर, निदान डायग्नोस्टिक जांच घर, जेटी लैब को वैध घोषित किया गया है। वहीं बेलदौर के साईं जांच घर, अमित जांच घर, बेलदौर, हाईटेक जांच घर, श्री नारायण डायग्नोस्टिक सेन्टर, अपोलो जांच घर जमालपुर, खगड़िया के पलक जांच घर, चंद्रा पैथोलैब, उमा पैथोलैब, एडवांस पैथोलैब, शिवम पैथोलैब, महावीर जांच घर, दीप जांच घर, आस्था जांच घर, खुशबू जांच घर, बायो कैम जांच घर, हाईटेक पैथोलैब, संजीवनी जांच घर, निर्मला जांच घर, मीनू डायग्नोस्टिक सेन्टर व अमित जांच को वैध पाया गया।

एक दर्जन जांच घर किए गए अवैध घोषित

स्वास्थ्य विभाग ने जिले के विभिन्न प्रखंडों के एक दर्जन जांच घरों को अवैध घोषित कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा अवैध घोषित किए जांच घरों में माड़र के आविद लैब, नाला रोड के मैक्स पैथोलैब, कचहरी रोड के सृष्टि जांच घर, यशोदानगर के परफेक्ट जांच घर, मिल रोड के ग्लोबल लेबोरेट्री, जमालपुर, गोगरी के अशोक पैथोलैब, मड़ैया के सिफा जांच घर व विक्रम जांच घर, मोजाहिदा के अभिषेक जांच घर, परबत्ता के हर्ष जांच घर शामिल हैं। इन जांच घरों को बंद करा दिया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Only 26 investigation houses have been found valid in the district