DA Image
27 सितम्बर, 2020|6:38|IST

अगली स्टोरी

गोल्डेन कार्ड को लगेंगे शिविर

default image

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के लाभार्थियों के गोल्डेन कार्ड बनाने को लेकर पंचायतों में शिविर की तिथि निर्धारित की जा चुकी है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले में ढाई लाख लाभार्थियों में से महज 22 प्रतिशत लाभार्थियों का ही अब तक गोल्डेन कार्ड बन पाया है। इसलिए स्वास्थ्य विभाग ने पंचायत स्तर पर गोल्डेन कार्ड बनाने को लेकर शिविर लगाने का निर्णय लिया है।

इसको लेकर गत दस दिसंबर को पंचायतों में कार्यरत सभी कार्यपालक सहायकों को प्रशिक्षण भी दिया जा चुका है। सीएस डॉ. दिनेश कुमार निर्मल ने बताया कि सदर प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में आगामी 18 से 20 दिसंबर तक शिविर लगाया जाएगा। वहीं जिले के गोगरी प्रखंड के पंचायतों में आगामी 21 , 23 और 24 दिसंबर को शिविर लगाया जाएगा।

अलौली में 26 व 28 दिसंबर को लगेगा शिविर: वहीं अलौली प्रखंड में आगामी 26 और 28 दिसंबर को गोल्डेन कार्ड बनाया जाएगा। जबकि चौथम, मानसी व परबत्ता प्रखंड में 14 दिसंबर के अलावा 16 और 17 दिसंबर को पंचायतों में शिविर लगाया जाएगा।

आशा को दी गई है जिम्मेवारी : सभी प्रखंडों के आशा को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत गोल्डेन कार्ड बनवाने के लिए लाभार्थियों को प्रेरित करने के लिए जिम्मेवारी दी गई है। इस संबंध में सभी आशा को आदेश दिया गया है कि वे अपने-अपने क्षेत्र के लाभार्थियों का गोल्डेन कार्ड बनाने के बाद शिविर के अगले दिन रिपोर्ट संबंधित पीएचसी में जमा करें।

अधिकारी करेंगे मॉनीटरिंग: जिले के चिन्हित पंचायतों में आगामी 18 दिसंबर से शुरू हो रहे गोल्डेन कार्ड शिविर का अधिकारी मॉनीटरिंग करेंगे। जिससे गोल्डेन कार्ड बनाने का लक्ष्य जिला में निर्धारित समयावधि में पूरा किया जा सके।