Durga Temple located in Rohi famous as miraculous mother - चमत्कारी माता के रूप में प्रसिद्ध है रोहरी स्थित दुर्गा मंदिर DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चमत्कारी माता के रूप में प्रसिद्ध है रोहरी स्थित दुर्गा मंदिर

चमत्कारी माता के रूप में प्रसिद्ध है रोहरी स्थित दुर्गा मंदिर

महेशखूंट के रोहरी बाबूबगीचा स्थित मंदिर में स्थापित मां की प्रतिमा चमत्कारी दुर्गा के रूप में विख्यात है। श्रद्धालुओं का कहना है कि यहां जो भी भक्त सच्चे मन से मां की आराधना करते हैं उनकी मुरादें जरूर पूरी होती है। भक्तों ने मिलकर मां दुर्गा की भव्य व आकर्षण मंदिर का निर्माण किया गया। मंदिर की निर्माण 1965 ई में हुई थी।

उस समय मुंगेर जिले के बाबूबगीचा वर्तमान के खगड़िया जिले के बन्नी व सिरजुआ घाट के नाम से जाना जाता है। गंगा के कटाव के कारण लोग विस्थापित होकर रोहरी आ गये और बाबूबगीचा नाम रख दिया। आस पास के क्षेत्र में राहरी बाबूबगीचा की दुर्गा मंदिर प्रसिद्ध माना जाता है।

मंदिर में स्थापित है संगमरमर की मूर्तियां: मंदिर में मां दुर्गा, सरस्वती, गणेश, लक्ष्मी, कार्तिकेय आदि देवी देवता के संगमरमर की मूर्तियां स्थापित है। बताया गया कि श्रद्धालु रवीन्द्र कुमार मंडल ने 25 अप्रैल 2015 को संगमरमर की मूर्तियां स्थापित की। मनोकामनाएं पूर्ण होने पर उन्होंने मंदिर परिसर में संगमरमर की मूर्तियां दान स्वरूप भेंट की।

दूसरे जिले के मूर्तिकार बानाते है प्रतिमा: यहां प्रतिवर्ष अस्थाई प्रतिमा भी स्थापित की जाती है। मां दुर्गा की प्रतिमा दूसरे जिले के कलाकार आकर बनाते है। इस साल भागलपुर के सल्तानगंज के कलाकर अरूण पंडित बना रहे हैं। मूर्तिदाता की लम्बी कतार में इस साल के नयानगर निवासी प्रकाश सिंह व बाबूबगीचा निवासी बटेश्वर साह की ओर से प्रतिमा बनाई जा रही है।

मेला में होगा नाट्क का मंचन : दुर्गा नाट्य कला परिसद बाबूबगीच बन्नी की ओर से इस बार नाटक का मंचन होगा। पहली रात बीर बडबरिक तथा युवा नाट्य कला परिषद बन्नी की ओर से दूसरी रात रावण वध नाटक का मंचन किया जाएगा। इसके अलावा कई सांस्कृतिक कार्यक्रम होते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Durga Temple located in Rohi famous as miraculous mother