DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

योगदान देने आये दो फर्जी सिपाही गिरफ्तार

बिहार सैन्य पुलिस सप्तम वाहिनी में योगदान करने आये तो फर्जी सिपाही को सहायक थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, गिरफ्तार सिपाही की पहचान जहानाबाद जिले के पाली थाना क्षेत्र के विमलपुर निवासी सतीश कुमार के रूप में हुई है, जबकि दूसरे फर्जी सिपाही की पहचान भागलपुर जिले के सुल्तानगंज थाना क्षेत्र के इंग्लिश रतनपुर गांव के निलेश कुमार के रूप में हुई है. थानाध्यक्ष ने बताया कि बीएमपी 7 के रक्षित पदाधिकारी सैयद निशांत अहमद ने लिखित आवेदन में बताया है कि योगदान के समय अभ्यर्थी का आवेदन पत्र पर चिपकाई गई फोटो जिसकी स्क्रीन की हुई प्रति सीट पर उपलब्ध है काम मिला उम्मीदवार से अस्पष्ट रुप से नहीं हो पाया है, इसी कारण से राज्य मुख्यालय और स्थानीय समादेष्टा के आदेशानुसार दोनों अभ्यर्थियों को पकड़ कर पुलिस के हवाले किया गया है. दोनों अभ्यर्थी का फोटो नहीं मिलने पर उनके खिलाफ सीकर सिपाही की नौकरी लेने प्रयास करने के आरोप में सहायक थाना में केस दर्ज की गई है. थानाध्यक्ष ने बताया कि आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर न्यायिक हिरासत में जेल भेजा जा रहा है. मालूम हो कि कुछ दिन पहले ही बीएमपी के आदेश पर एक फर्जी सिपाही को योगदान करते समय गिरफ्तार किया गया था. इन दिनों बिहार सैन्य पुलिस के रक्षित कार्यालय योगदान देने का काम चल रहा है.

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Two fake constables got arrested who had come to give contribution