ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार कटिहारजेनरेटर संचालक के भरोसे मरीजों का इलाज

जेनरेटर संचालक के भरोसे मरीजों का इलाज

सालमारी, एक संवाददाता बलिया बेलौन क्षेत्र के अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बलिया बेलौन चिकित्सक...

जेनरेटर संचालक के भरोसे मरीजों का इलाज
हिन्दुस्तान टीम,कटिहारThu, 30 Nov 2023 01:01 AM
ऐप पर पढ़ें

सालमारी, एक संवाददाता
बलिया बेलौन क्षेत्र के अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बलिया बेलौन चिकित्सक विहीन होने के कारण इस क्षेत्र के 12 पंचायत के करीब एक लाख की आबादी को प्राथमिक उपचार का भी लाभ नहीं मिल रहा है। पूर्व के आयुष चिकित्सक डॉ वीं सिंह के निधन के छह माह से एक भी चिकित्सक पदस्थापित नहीं हुए हैं। पदस्थापित एएनएम का दूसरे जिला में तबादला होने के बाद बलिया बेलौन स्वास्थ्य केंद्र जेनरेटर संचालक के भरोसे चल रहा है। जानकारी के अनुसार जेनरेटर संचालक राजेश कुमार, सोनू कुमार को विगत छह माह से राज इन्फोर्मेटिक कंस्ट्रक्शन पटना के द्वारा मानदेय नहीं देने पर कदवा के चिकित्सा पदाधिकारी को आवेदन दे कर काम नहीं करने की बात कहे हैं। ऐसे में अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बलिया बेलौन का अब ताला खोलने वाला भी कोई नहीं है। मुखिया संघ अध्यक्ष सह बेलौन मुखिया मेराज आलम ने कहा की कदवा भाग दो बलिया बेलौन क्षेत्र में 12 पंचायतों के लिए एक ही अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र है। यहां चिकित्सक या स्वास्थ्य कर्मी नहीं रहने से क्षेत्र के लोगों को निजी क्लिनिक में जा कर इलाज कराना पड़ता है। इसमें आर्थिक शोषण के साथ ही सुविधा पूर्वक इलाज नहीं हो पाता है। विशेष कर बुजूर्ग और गर्भवती महिलाओं को सबसे अधिक परेशानी झेलनी पड़ती है। क्षेत्र के लोग 30 किमी दूर दुर्गागंज स्वास्थ्य केंद्र में जा कर इलाज कराने से परहेज़ कर रहा था। बेलौन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सक एवं कर्मी की शीघ्र प्रतिनियुक्त नहीं होने पर क्षेत्र के लोग सड़कों पर उतर कर आन्दोलन करने में विवश होगा। इस क्षेत्र की एक लाख की आबादी चिकित्सक के बेगैर रह रहा है। कुछ ऐसा ही हाल माहीनगर स्वास्थ्य केंद्र का हैं। चिकित्सक की कमी के कारण कागजी खानापूर्ति के तहत मरीजों का इलाज होता है। मेराज आलम ने बताया की बलिया बेलौन में अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का भवन निर्माण के लिए सरकारी जमीन उपलब्ध होने के साथ ही नीजी जमीन देने के लिए भी तैयार हैं। इसके बावजूद इस पर स्वास्थ्य विभाग या जनप्रतिनिधि ध्यान नहीं दे रहा है। उन्होंने जिला पदाधिकारी से बलिया बेलौन अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में शीघ्र शीघ्र चिकित्सक पदस्थापित कराने की मांग की है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें